Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Road Safety World Series: भारतीय लीजेंड्स ने वेस्टइंडीज के लीजेंड्स को चटाई धूल, भारत ने फाइनल में बनाई जगह

रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज में भारतीय लीजेंड्स (Indian Legends) ने वेस्टइंडीज लीजेंड्स को 12 रनों से हरा दिया। जिसके बाद भारतीय टीम रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज टी20 टूर्नामेंट ( Road Safety World Series) के फाइनल में पहुंच गई है।

भारतीय लीजेंड्स ने वेस्टइंडीज के लीजेंड्स को चटाई धूल
X

भारतीय लीजेंड्स ने फाइनल में बनाई जगह

खेल। रायपुर (Raipur) के शहीद वीर नारायण सिंह स्टेडियम (Shaheed Veer Narayan Singh Stadium) में भारतीय लीजेंड्स (Indian Legends) और वेस्टइंडीज लीजेंड्स (West Indies Legends) के बीच सेमीफाइनल (Semifinal) मैच खेला गया। इस मैच में भारतीय लीजेंड्स (Indian Legends) ने वेस्टइंडीज लीजेंड्स को 12 रनों से हरा दिया। जिसके बाद भारतीय टीम रोड सेफ्टी वर्ल्ड सीरीज( Road Safety World Series) के फाइनल में पहुंच गई है। इस मैच में कप्तान सचिन तेंदुलकर और युवराज सिंह की ताबड़तोड़ बल्लेबाजी के साथ गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारत ने फाइनल में जगह बनाई है।

दरअसल भारतीय लीजेंड्स (Indian Legends) ने टॉस गंवाकर पहले बल्लेबाजी करते हुए तीन विकेट पर 218 रनों का स्कोर खड़ा किया। जिसके बाद 219 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी वेस्टइंडीज लीजेंड्स (West Indies Legends) का पहला विकेट 19 रन पर विलियम पर्किंस (9) (William Perkins) के रूप में गिरा। इसके बाद ड्वेन स्मिथ (63) ने इस सीरीज में अपना पहला अर्धशतक पूरा करते हुए विंडीज के स्कोर को 100 के पार पहुंचाया। स्मिथ ने नरसिंह डोनरेन (59) के साथ दूसरे विकेट के लिए 99 रनों की साझेदारी की। जिसके बाद इस साझेदारी को इरफान पठान ने स्मिथ को आउट करके तोड़ा। उन्होंने स्मिथ को यूसुफ पठान के हाथों कैच कराया। बता दें कि, स्मिथ ने 36 गेंदों पर 9 चौके और 2 छक्के लगाए।

इसके साथ ही भारतीय लीजेंड्स टीम ने वेस्टइंडीज को 20 ओवरों में 6 विकेट के साथ 206 रनों पर ही रोक दिया। अब रविवार को फाइनल में भारतीय लीजेंडस का सामना, श्रीलंका लीजेंड्स और दक्षिण अफ्रीका लीजेंड्स के बीच शुक्रवार को होने वाले दूसरे सेमीफाइनल के विजेता से होगा।

वहीं 120 रनों पर अपने तीन विकेट गंवाने के बाद कप्तान ब्रायन लारा बल्लेबाजी करने के लिए मैदान पर उतरे। जिसके बाद लारा और डोनरेन ने चौथे विकेट के लिए 80 रनों की साझेदारी करके विंडीज को मैच में बनाए रखने का काम किया। जिसके बाद आखिरी टीम को ओवर में मैच जीतने के लिए 17 रन बनाने थे, लेकिन वह निर्धारित 20 ओवर में छह विकेट पर 206 रन ही बना सकी। बता दें कि, डोनरेन ने 44 गेंदों पर पांच चौके और दो छक्के लगाए। लारा ने 28 गेंदों पर 4 चौके और 2 छक्के के सहारे 46 रन बनाए। और भारतीय लीजेंड्स के लिए विनय कुमार को 2 और इरफान पठान, मनप्रीत गोनी और प्रज्ञान ओझा को एक-एक विकेट मिले।

इसके साथ ही भारतीय टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचाते हुए कप्तान सचिन तेंदुलकर (65) और युवराज सिंह (20 गेंदों पर 1 चौका और 6 छक्कों की मदद से नाबाद 49 रन) की विस्फोटक पारी के दम पर तीन विकेट पर 218 रनों का बड़ा स्कोर खड़ा किया। वहीं वीरेंद्र सहवाग (35) और तेंदुलकर ने पहले विकेट के लिए 5.3 ओवर में 56 रन जोड़कर पारी को विस्फोटक शुरुआत दी। जिसके बाद सहवाग को टिनो बेस्ट ने अपनी ही गेंद पर कैच आउट किया। सहवाग ने 17 गेंदों पर 5 चौके और एक छक्का जड़ा। सहवाग के पवेलियन लौटने के बाद सचिन ने मोहम्मद कैफ (27) के साथ दूसरे विकेट के लिए 38 गेंदों पर 53 रनों की साझेदारी की। कैफ ने 21 गेंदों पर 2 चौके और 2 छक्के लगाए। कैफ को नागामूटू ने आस्टिन के हाथों कैच कराया।

हालांकि कप्तान सचिन ने एक छोर संभाले रखा और इस सीरीज में अपना लगातार दूसरा अर्धशतक पूरा किया। सचिन ने 42 गेंदों पर 6 चौके और 3 छक्के लगाए। वह बेस्ट की गेंद पर किर्क एडवडर्स के हाथों कैच हुए। इसके बाद यूसुफ पठान ने 20 गेंदों पर 2 चौके और 3 छक्कों की मदद से नाबाद 37 रन और युवराज सिंह ने 20 गेंदों पर एक चौका और 6 छक्कों की मदद से नाबाद 49 रनों की विस्फोटक पारी खेलकर भारतीय लीजेंड्स को तीन विकेट पर 218 रनों के विशाल स्कोर तक पहुंचा दिया। युवराज ने 19वें ओवर में लगातार तीन छक्के जड़े।

Next Story