Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

On This Day: गांगुली-द्रविड़ ने रचा था इतिहास, पहली बार वनडे में बनाया रिकॉर्ड

On This Day: 22 साल पहले आज के ही दिन सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़ ने वनडे क्रिकेट इतिहास में पहली बार 300 रनों से ज्यादा की साझेदारी की थी।

On This Day: गांगुली-द्रविड़ ने रचा था इतिहास, पहली बार वनडे में बनाया रिकॉर्ड
X

On This Day: गांगुली-द्रविड़ ने रचा था इतिहास

खेल। क्रिकेट इतिहास (Cricket History) में सबसे बेहतरीन जोड़ियों में से एक सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़ (Sourav Ganguly and Rahul dravid) की जोड़ी को माना जाता था। वहीं इन दोनों ने कई रिकोर्ड्स बनाए हैं। इसके साथ ही वनडे क्रिकेट (ODI Cricket) में 10 हजार से ज्यादा रन बनाने वाले सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़ ने मैदान पर कई बार विरोधी टीमों को निशाना बनाया है। आज से 22 साल पहले 1999 वर्ल्ड कप में गांगुली और द्रविड़ ने श्रीलंका (Sri lanka) के खिलाफ टॉटन के मैदान पर दूसरे विकेट के लिए 318 रनों की रिकॉर्ड साझेदारी (partnership) की थी। वनडे क्रिकेट इतिहास में उस समय यह किसी भी विकेट के लिए यह सबसे बड़ी साझेदारी थी। दरअसल पहले दो मैचों में भारतीय टीम को दक्षिण अफ्रीका (south Africa) और जिम्बाब्वे (Zimbabwe) के हाथों हार का सामना करना पड़ा। जिसके बाद तीसरे मुकाबले में भारत का सामना श्रीलंका से हुआ। उस समय श्रीलंकाई टीम की कमान अर्जुन रणतुंगा संभाल रहे थे।

बता दें कि, श्रीलंका के कप्तान अर्जुन रणतुंगा ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला लिया। जिसके बाद भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही। पहले ही ओवर में सदगोपन रमेश 5 रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद गांगुली का साथ देने आए राहुल द्रविड़। गांगुली ने 158 गेंदों में 17 चौकों और 7 छक्कों की मदद से 183 रन की पारी खेली थी, जो कि वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में उनका सर्वाधिक स्कोर रहा। वहीं गांगुली ने इस दौरान कपिल देव का रिकॉर्ड तोड़ा जिन्होंने 1983 के वर्ल्ड कप में 175 रनों की पारी खेली थी। दूसरी ओर राहुल द्रविड़ 129 गेंदों में 145 रन बनाकर आउट हुए। द्रविड़ के बल्ले से 17 चौके और एक छक्का निकला। गांगुली और द्रविड़ के बीच दूसरे विकेट लिए रिकॉर्ड 318 रनों की साझेदारी हुई।

श्रीलंका के खिलाफ उस मैच में भारतीय टीम ने द्रविड़ और गांगुली की पारियों की बदौलत 50 ओवर में छह विकेट के नुकसान पर 373 रनों का स्कोर खड़ा किया। इसके बाद लक्ष्य का पीछा करते हुए श्रीलंका 216 रनों पर ऑलआउट हो गई। और भारत ने 157 रनों से जीत हासिल की थी। वहीं रॉबिन सिंह ने 9.3 ओवर में 31 रन देकर 5 विकेट झटके थे।

वनडे क्रिकेट की चौथी बड़ी साझेदारी

इसके साथ ही गांगुली और द्रविड़ का यह वर्ल्ड रिकॉर्ड ज्यादा दिनों तक टिक नहीं सका। दरअसल छह महीने बाद ही राहुल द्रविड़ ने सचिन तेंदुलकर के साथ न्यूजीलैंड के खिलाफ हैदराबाद में 331 रन जोड़कर इस रिकॉर्ड को तोड़ दिया है। बता दें कि वनडे क्रिकेट में अब तक पांच बार ही किसी भी विकेट लिए 300 से ज्यादा रनों की साझेदारी हुई है।

और पढ़ें
Next Story