Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

माइकल वॉन की भारत को चुनौती, कहा- इंग्लैंड को उसके घर में हराकर दिखाएं

भारत और इंग्लैंड (IND VS ENG) के बीच हुए चार टेस्ट मैचों की सीरीज (TEST Series) के दौरान बार-बार पिच पर सवाल उठाने वाले इंग्लैंड (England) के पूर्व क्रिकेटर माइकन वॉन (Michael Vaughan) के सुर बदल गए हैं। उन्होंने भारतीय टीम (Indian team) को इंग्लैंड में खेलने और जीतने की चुनौती भी दे डाली है।

इंग्लैंड में जीत के दिखाओ तो कहलाएगी बेस्ट टेस्ट टीम
X

माइकल वॉन के बदले सुर

खेल। भारत और इंग्लैंड (IND VS ENG) के बीच हुए चार टेस्ट मैचों की सीरीज (TEST Series) के दौरान बार-बार पिच पर सवाल उठाने वाले इंग्लैंड (England) के पूर्व क्रिकेटर माइकन वॉन (Michael Vaughan) के सुर बदल गए हैं। जहां उन्होंने सीरीज जीतने के बाद भारतीय टीम (Indian team) को बधाई दी है, वहीं दूसरी तरफ उन्होंने भारतीय टीम (Indian team) को चुनौती भी दे डाली है। दरअसल उन्होंने ट्वीट करके कहा है कि, अगर भारतीय टीम (Indian team) इस दौर की सर्वश्रेष्ठ टीम है, तो वह इंग्लैंड को उसके घर में हराकर दिखाए। इसके साथ ही उनका मानना है कि इंग्लैंड में स्विंग होती गेंदबाजी के आगे जीतकर ही भारत टेस्ट में बेस्ट हो सकता है।

वहीं माइकल वॉन (Michael Vaughan) यहीं नहीं रुके उन्होंने आगे लिखा कि, "भारतीय टीम (Indian Team) अबतक काफी बेहतर रही है। इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में पिछड़ने के बावजूद भारत ने लगातार तीन टेस्ट जीते हैं। अगर वह इंग्लैंड में भी ऐसा करने में कामयाब रहते हैं तो बिना किसी संदेह के भारतीय टीम इस दौर की सबसे बेहतर टीम मानी जाएगी। क्योंकि उन्हें इंग्लैंड में स्विंग गेंदबाजी का सामना करना होगा।" हालांकि, भारतीय टीम का इंग्लैंड में पिछले दो दशक के खेल का रिकॉर्ड देखा जाए तो हालात चिंताजनक है। और इसी के साथ भारतीय टीम तो वॉन की चुनौती से पार पाना आसान नहीं होगा। दरअसल भारत ने पिछले 20 सालों में इंग्लैंड के घर में सिर्फ 5 टेस्ट सीरीज खेली है। जिसमें से उसे 1 मैच में जीत हासिल हुई है जबकि बाकी तीन में उसे हार का मुहं देखना पड़ा साथ ही 1 मैच ड्रॉ रहा।

2007 में भारत ने इंग्लैंड को उसी के घर में तीन टेस्ट की सीरीज में 1-0 से हराया था। और इस सीरीज की दिलचस्प बात ये थी की उस दौरान माइकल वॉन ही इंग्लैंड की कप्तानी कर रहे थे। जबकि भारतीय टीम की कमान राहुल द्रविड़ के हाथों में थी। उस समय भारत ने सीरीज का पहला और तीसरा टेस्ट ड्रॉ कराया था, जबकि दूसरे में इंग्लैंड को 7 विकेट से हराया था। वहीं इससे पहले 2002 में भी भारत ने इंग्लैंड दौरे पर 4 टेस्ट की सीरीज 1-1 से ड्रॉ कराई थी। तब सौरव गांगुली भारतीय टीम के कप्तान थे.

इंग्लैंड के घर में भारत को मिली हार

भारत को इंग्लैंड के घर में पिछली तीन सीरीज में हार झेलनी पड़ी थी। साल 2018 में इंग्लैंड ने भारत को 5 टेस्ट सीरीज में 4-1 से मात दी थी। वहीं 4 साल पहले इंग्लैंड ने भारत को 5 टेस्ट की घरेलू सीरीज में 3-1 से हराया था। इससे तीन साल पहले भी भारत के हाथ मायूसी ही आई थी। इसके साथ ही अगर दोनों देशों का ओवरऑल रिकॉर्ड देखें तो इंग्लैंड के खिलाफ भारत ने 34 टेस्ट सीरीज खेली है। इसमें से उसे 11 में जीत और 19 में हार मिली है। इसके साथ ही दोनों के बीच 4 सीरीज ड्रॉ रही है।

Next Story