Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भारत में वैध होने जा रही क्रिकेट सट्टेबाजी, जानें पूरा मामला

बीसीसीआई की भ्रष्टाचार रोधी इकाई के प्रमुख अजीत सिंह शेखावत ने भारतीय क्रिकेट में भ्रष्टाचार की समस्या से निपटने के लिए मंगलवार को मैच फिक्सिंग से जुड़े नियम बनाने और सट्टेबाजी को वैध करने का सुझाव दिया। राजस्थान पुलिस के महानिदेशक रह चुके अजीत सिंह शेखावत अप्रैल 2018 में बीसीसीआई की भ्रष्टाचार रोधी इकाई से जुड़े हैं।

भारत में वैध होने जा रही क्रिकेट सट्टेबाजी, जानें पूरा मामलाBCCI ACU Chief Ajit Sigh Legal Match Fixing Law Betting

हाल ही में भारतीय महिला क्रिकेट में मैच फिक्सिंग का मामला सामने आने के बाद बीसीसीआई की भ्रष्टाचार रोधी इकाई के प्रमुख अजीत सिंह शेखावत ने भारतीय क्रिकेट में भ्रष्टाचार की समस्या से निपटने के लिए मंगलवार को मैच फिक्सिंग से जुड़े नियम बनाने और सट्टेबाजी को वैध करने का सुझाव दिया। उन्होंने यह सुझाव पीटीआई को दिए एक इंटरव्यू में दिया है।

राजस्थान पुलिस के महानिदेशक रह चुके अजीत सिंह शेखावत अप्रैल 2018 में बीसीसीआई की भ्रष्टाचार रोधी इकाई से जुड़े हैं। बता दें कि पिछले एक साल में राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटरों सहित 12 क्रिकेटरों के भ्रष्ट संपर्क की शिकायत सामने आई है। हाल ही में संदिग्ध गतिविधि के कारण तमिलनाडु प्रीमियर लीग के संदेह के दायरे में आने और एक महिला क्रिकेटर से सट्टेबाज के संपर्क करने का मामला भी आया है।

इस साल मुंबई, कर्नाटक और तमिलनाडु की लीगों से फिक्सिंग के मामलें सामने आए। ऐसे में इन मामलों को देखते हुए उनसे पूछा गया कि क्या देश में मैच फिक्सिंग या स्पाट फिक्सिंग को रोकना असंभव हो गया है? इस सवाल के जवाब में शेखावत ने कहा कि इसे रोकना असंभव नहीं है। इसमें संभवत: इसके खिलाफ कानून की जरूरत है, मैच फिक्सिंग कानून। अगर इसके खिलाफ स्पष्ट कानून होगा तो पुलिस की भूमिका भी स्पष्ट होगी।

शेखावत ने कहा कि खेल में भ्रष्टाचार से निपटने का एक अन्य तरीका सट्टेबाजी को वैध बनाना भी है। उन्होंने कहा कि सट्टेबाजी को वैध बनाने पर विचार हो सकता है। ताकि जो भी अवैध गतिविधियां हो रही हैं उन सभी को नियंत्रित किया जा सके। वैध सट्टेबाजी कुछ मापदंडों के अंतर्गत होती है और इसे नियंत्रित किया जा सकता है।

Next Story
Share it
Top