Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Birthday Special: जब जंबो ने पूरी PAK टीम को अकेले ही भेज दिया था पवेलियन, जानें अनिल कुंबले के अनसुने किस्से

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कोच अनिल कुंबले 17 अक्‍टूबर को अपना 51वां जन्‍मदिन मना रहे हैं। उन्होनें अपने क्रिकेट खेलने कि शुरुआत सन 1990 में श्रीलंका के खिलाफ डेब्यू मैच खेलते हुए किया था और अपने करियर में कई कीर्तिमान हासिल किए थे।

Birthday Special: जब जंबो ने पूरी PAK टीम को अकेले ही भेज दिया था पवेलियन, जानें अनिल कुंबले के अनसुने किस्से
X

खेल। क्रिकेट जगत में जंबो के नाम से मशहूर भारतीय क्रिकेट टीम (Indian Cricket team) के पूर्व क्रिकेटर अनिल कुंबले (Anil Birthday) 17 अक्‍टूबर को अपना 51वां जन्‍मदिन मना रहे हैं। बेंगलुरु में 1970 में जन्मे अनिल कुंबले ने 25 अप्रैल 1990 में श्रीलंका के खिलाफ वनडे क्रिकेट (ODI) में डेब्यू किया था। वहीं 9 अगस्त 190 को टेस्ट (Test) में पर्दापण किया था। इस दौरान उन्होंने अपने करियर में कई कीर्तिमान हासिल किए।


साल 1990 से 2008 तक खेले गए अपने करियर में कुंबले ने 132 टेस्‍ट और 271 वनडे खेले थे। विश्‍व में सबसे ज्‍यादा टेस्‍ट विकेट लेने वाले गेंदबाजों की सूची में कुंबले तीसरे नंबर पर हैं, तो वहीं भारत में पहले स्‍थान पर बरकरार हैं। अनिल कुंबले ने 271 वनडे मैचों में 4.32 की इकॉनमी के साथ कुल 337 विकेट लिये हैं।

अनिल कुंबले का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन

वनडे में अनिल कुंबले का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन एक मैच में 12 रन देकर 6 विकेट लेना रहा हे। साथ ही इसके अलावा एक मैच में 5 विकेट लेने का कारनामा अनिल कुंबले 2 बार कर चुके हैं जबकि 4 विकेट लेने का कारनामा 8 बार कर चुके है। चाहे वह पाकिस्‍तान के खिलाफ ​74​​​/​​​​10​ का जादुई गेंदबाजी आंकड़ा हो या वेस्‍ट इंडीज के खिलाफ 12 रन देकर 6 विकेट लेने का करिश्‍मा, कुंबले ने अपने प्रदर्शन से हमेशा सभी को हैरान किया है। साथ ही अनिल कुंबले ने 118 टेस्‍ट मैचों के बाद अपना पहला शतक जड़ा। यह शतक बनाने के लिए किसी खिलाड़ी द्वारा खेले गए सर्वाधिक मैचों का विश्‍व रिकॉर्ड रहा है।


कुंबले को मिला 'जंबो' नाम

पूरा क्रिकेट जगत अनिल कुंबले को उनके नाम से नहीं बल्कि जंबो नाम से जानता है। इसके पीछे का कारण उन्होंने अपने एक फैन का जबाव देते हुए ट्विटर पर बताया। उन्होंने कहा कि जब मैं दिल्ली के फिरोज शाह कोटला मैदान पर रेस्ट ऑफ इंडिया की तरफ से खेल रहा था। और सिद्धू सामने की ओर फील्डिंग कर रहे थे। मेरी कुछ गेंदें ज्यादा उछाल ले रही थी, जिसके तुरंत बाद सिद्धू ने मुझे जंबो जेट कहा। बाद में मेरे नाम के पीछे से जेट तो हट गया, लेकिन जंबो रह गया। और साथ ही मेरी हाइट ज्यादा होने के कारण टीम के सभी साथी भी मुझे जंबो के नाम से बुलाने लगे।


अनिल कुंबले का टेस्ट प्रदर्शन

अनिल कुंबले को उनके शानदार प्रदर्शन करने के चलते उनको 37 साल की उम्र में टेस्‍ट कप्‍तान बनाया गया था। जिस वक्त कुंबले कप्‍तानी दी गई तब वनडे और टी-20 की कप्‍तानी एमएस धोनी को दी गई थी। टेस्‍ट में दूसरे सबसे अच्‍छी गेंदबाजी करने के आंकड़े भी कुंबले नाम हैं। अनिल कुंबले एक टेस्ट मैच की पारी के सभी 10 विकेट लेने वाले दो गेंदबाजों में से एक हैं। लेकिन पहले पायदान पर इंग्‍लैण्‍ड के जिम लेकर ने साल 1956 में 53 रन देकर 10 विकेट लेने का कारनामा पहले ही कर चुके हैं साथ ही कुंबले ने टेस्ट क्रिकेट में 619 विकेट लिए हैं जो की किसी भारतीय खिलाड़ी द्वारा लिए गए सबसे ज्यादा टेस्ट विकाट हैं इसके अलावा उन्होनें 965 इंटरनेशनल विकेट लिए हैं

और पढ़ें
Next Story