Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जब हार से निकालकर ग्लेंन मैक्सवेल ने जिताया मैच, 5 साल बाद जीती सीरीज

Australia Vs England : ग्लेंन मैक्सवेल उस समय आए थे जब ऑस्ट्रेलिया दबाव में बल्लेबाजी कर रही थी, लेकिन इसका कुछ भी असर ग्लेंन मैक्सवेल पर नहीं पड़ा। मैक्सवेल ने शुरुआत से बड़े शॉट खेलना शुरू कर दिया था। ग्लेंन मैक्सवेल के कॉंफिडेंट का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है

जब हार से निकालकर ग्लेंन मैक्सवेल ने जिताया मैच, 5 साल बाद जीती सीरीज
X

इंग्लैंड बनाम ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए तीसरे और अंतिम वनडे मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ने 3 विकेट से जीत दर्ज की, इसमें ग्लेंन मैक्सवेल और अलेक्स केरी ने मैच विनिंग पारी खेली। ग्लेंन मैक्सवेल ने 108 और अलेक्स केरी ने 106 रनों की पारी खेली, और जब ये दोनों प्लेयर्स आउट हुए तब ऑस्ट्रेलिया अच्छी पोजीशन पर आ चुका था।

एक समय ऐसा था जब ऑस्ट्रेलिया क्रिकेट टीम मुसीबत में पहुंच गई थी, क्योंकि 303 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए 73 रनों पर ऑस्ट्रेलिया की आधी टीम पवेलियन लौट गई थी। लेकिन उसके बाद आए ग्लेंन मैक्सवेल और अलेक्स केरी ने शानदार पारी खेली। आपको बता दें कि अलेक्स केरी भी 6 रनों के स्कोर पर कैच आउट हो गए थे, लेकिन टीवी स्क्रीन पर देखने पर पता चला कि जोफ्रा आर्चर की ये गेंद नो बॉल थी।

ग्लेंन मैक्सवेल ने छक्का मारकर पूरा किया शतक

ग्लेंन मैक्सवेल उस समय आए थे जब ऑस्ट्रेलिया दबाव में बल्लेबाजी कर रही थी, लेकिन इसका कुछ भी असर ग्लेंन मैक्सवेल पर नहीं पड़ा। मैक्सवेल ने शुरुआत से बड़े शॉट खेलना शुरू कर दिया था। ग्लेंन मैक्सवेल के कॉंफिडेंट का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने अपना अर्धशतक और शतक दोनों ही छक्का मारकर पूरा किया था। ग्लेंन मैक्सवेल को उनकी पारी के लिए मैन ऑफ द मैच और मैन ऑफ द सीरीज का खिताब दिया गया।

Also Read - दिल्ली कैपिटल्स ने अब तक नहीं खेला IPL फाइनल, क्या इस बार रचेगी इतिहास

उनका साथ अलेक्स केरी ने बखूभी निभाया, और महत्वपूर्ण 106 रन बनाए। आपको बता दें कि इंग्लैंड के विरुद्ध ऑस्ट्रेलिया की वनडे क्रिकेट में 2005 के बाद पहली जीत है। इस बीच खेली गई 2 वनडे सीरीज इंग्लैंड ने ही जीती थी।

Next Story
Top