Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पृथ्वी शॉ के शॉट वीरेंद्र सहवाग की याद दिलाते हैं, उनमे बड़ा क्रिकेटर बनने की क्षमता - वसीम जाफर

Wasim Jaffer : पृथ्वी शॉ उन चुनिंदा क्रिकेटर्स में शामिल हैं, जिन्होंने अपने डेब्यू टेस्ट मैच में शतक जड़ा हो। पृथ्वी शॉ ने 2018 में वेस्ट इंडीज के खिलाफ डेब्यू टेस्ट मैच में 135 रन बनाए थे, और भारत की ओर से डेब्यू में सेंचुरी लगाने वाले 15वें भारतीय क्रिकेटर बन गए थे।

पृथ्वी शॉ के शॉट वीरेंद्र सहवाग की याद दिलाते हैं, उनमे बड़ा क्रिकेटर बनने की क्षमता - वसीम जाफर
X
Prithvi Shaw Cricketer

भारतीय क्रिकेट टीम (Indian cricket team) के पूर्व क्रिकेटर और वर्तमान में उत्तराखंड क्रिकेट टीम (uttarakhand cricket team) के मुख्य कोच वसीम जाफर (wasim jaffer) का मानना है कि पृथ्वी शॉ (prithvi shaw) एक बड़े क्रिकेटर बनने की राह पर हैं, लेकिन उन्हें कुछ बदलाव की जरुरत है।

वसीम जाफर ने कहा कि पृथ्वी शॉ को ऑफ फील्ड भी खुद को अनुशासन में रखना चाहिए, क्योंकि उनमे बड़ा क्रिकेटर बनने कि क्षमता है। वसीम जाफर ने कहा कि ऐसे ही लोग उनकी तुलना मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर (sachin tendulkar) से नहीं करते, इतनी छोटी उम्र में भारतीय क्रिकेट टीम में जगह बनाना बड़ी बात है।

पृथ्वी शॉ के शॉट वीरेंद्र सहवाग की याद दिलाते हैं- वसीम जाफर

पृथ्वी शॉ उन चुनिंदा क्रिकेटर्स में शामिल हैं, जिन्होंने अपने डेब्यू टेस्ट मैच में शतक जड़ा हो। पृथ्वी शॉ ने 2018 में वेस्ट इंडीज के खिलाफ डेब्यू टेस्ट मैच में 135 रन बनाए थे, और भारत की ओर से डेब्यू में सेंचुरी लगाने वाले 15वें भारतीय क्रिकेटर बन गए थे।

वसीम जाफर ने कहा कि पृथ्वी शॉ के शॉट देखकर पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग की याद आती है। हालांकि वसीम जाफर ने कहा कि पृथ्वी शॉ को बेहतर होने के लिए कुछ बदलाव की जरुरत है।

Also Read - Asia Cup पर आया PCB अध्यक्ष एहसान मनी का बयान, सौरव गांगुली ने कल स्थगित का दिया था बयान

न्यूजीलैंड दौरे पर पृथ्वी शॉ को मिली होगी सीख - वसीम जाफर

पृथ्वी शॉ इस वर्ष न्यूजीलैंड में टेस्ट सीरीज में भारतीय दल का हिस्सा थे, लेकिन उनका प्रदर्शन खासा अच्छा नहीं रहा था। इसको लेकर वसीम जाफर ने कहा कि पृथ्वी शॉ को यहां भी कुछ सीखने को मिला होगा, यहां न्यूजीलैंड के गेंदबाजों ने उन्हें बाउंसर गेंद से परेशान किया था और विकेट भी हासिल किया था। जाफर ने कहा कि पृथ्वी शॉ को खुद को क्रिकेट में अनुशासन लाने की जरुरत है, क्योंकि इंटरनेशनल सफल क्रिकेटर बनने की उनमे क्षमता मौजूद है।

Next Story