Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भारत-इंग्लैंड टेस्ट सीरीज पर खतरा, BCCI के पास पैसों की कमी

बोर्ड का कहना है कि, अगर फंड नहीं मिला तो वह राजकोट टेस्ट मैच कराने की स्थिति में नहीं है।

भारत-इंग्लैंड टेस्ट सीरीज पर खतरा, BCCI के पास पैसों की कमी
X
नई दिल्ली. राजकोट टेस्ट मैच पर इस समय ख़तरा मंडरा रहा है। जी हां बीसीसीआइ फंड के लिए तरस रहा है। लोढ़ा पैनल की सिफारिशों को लागू नहीं करने की वजह से फंड पर लगी रोक के बाद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआइ) एक बार फिर सुप्रीम कोर्ट में नई अर्जी लेकर पहुंचा है।
बीसीसीआइ ने अपनी इस अपील में कहा है कि बुधवार को राजकोट में इंग्लैंड के साथ होने वाले टेस्ट मैच के लिए फंड दिया जाए। बोर्ड का कहना है कि, अगर फंड नहीं मिला तो वह राजकोट टेस्ट मैच कराने की स्थिति में नहीं है। फिलहाल आज ही इस मामले में सुनवाई हो सकती है।
इस बीच लोढ़ा पैनल ने सुप्रीम कोर्ट में बीसीसीआइ की याचिका का विरोध किया है। लोढ़ा पैनल की ओर से कहा गया है कि क्रिकेट बोर्ड ने सिफारिशों को लागू नहीं किया है।
सुप्रीम कोर्ट ने बीसीसीआइ पर शिकंजा कसते हुए 21 अक्टूबर को आदेश पारित कर राज्य संघों को मिलने वाले पैसे पर तब तक के लिए रोक लगा दी जब तक कि अध्यक्ष अनुराग ठाकुर और राज्य इकाइयां सुधारवादी कदमों पर लोढ़ा समिति की सिफारिशों को लागू करने की शपथ नहीं देते। कई निर्देश देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने दुनिया के सबसे अमीर क्रिकेट बोर्ड के आय और खर्चे की 'समीक्षा' और ऑडिट के लिए 'स्वतंत्र ऑडिटर' की नियुक्ति के लिए भी कहा जो विभिन्न कंपनियों को दिए बड़ी कीमतों के अनुबंधों को भी देखेगा।
सीजेआई टीएस ठाकुर, न्यायमूर्ति एएम खानविलकर और डीवाई चंद्रचूड की पीठ ने कहा था, 'बीसीसीआइ को किसी भी राज्य संघ को किसी भी उद्देश्य से किसी भी तरह के कोष के वितरण से तब तक रोका जाता है जब तक कि संबंधित राज्य संघ इस अदालत द्वारा 18 जुलाई 2016 के फैसले में स्वीकार की गई समिति की सिफारिशों को लागू करने की शपथ का प्रस्ताव स्वीकार नहीं करते।'
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story