Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Asian Games 2018: स्कूली छात्र, वकील और अनुभवी निशानेबाज ने एशियाड में दिखाया जलवा, ऐसा रहा तीसरा दिन

एक स्कूली बच्चा अपनी परिपक्वता का परिचय देकर स्वर्ण पदक हासिल करता है, एक अनुभवी खिलाड़ी रजत पदक अपने नाम करता है और शौकिया तौर पर खेलने वाला एक वकील कांस्य पदक जीतने में सफल रहता है।

Asian Games 2018: स्कूली छात्र, वकील और अनुभवी निशानेबाज ने एशियाड में दिखाया जलवा, ऐसा रहा तीसरा दिन
X

एक स्कूली बच्चा अपनी परिपक्वता का परिचय देकर स्वर्ण पदक हासिल करता है, एक अनुभवी खिलाड़ी रजत पदक अपने नाम करता है और शौकिया तौर पर खेलने वाला एक वकील कांस्य पदक जीतने में सफल रहता है।

यह कहानी है 18वें एशियाई खेलों में तीसरे दिन की जिसमें भारत की तरफ से निशानेबाजों ने दबदबा बनाए रखा। किसान के बेटे 16 वर्षीय सौरभ चौधरी एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाले सबसे युवा निशानेबाज बन गये हैं।

इसे भी पढ़ें: बचपन में पिता की हत्या और ओलंपिक में लगी गंभीर चोट, जानें विनेश फोगाट के गोल्ड तक की दर्दभरी कहानी

उन्होंने पालेमबांग में पुरूषों की 10 मीटर एयर पिस्टल में 240.7 अंक के खेलों के रिकॉर्ड के साथ यह विशिष्ट उपलब्धि हासिल की। इस बीच चौधरी ने ओलंपियन और विश्व चैंपियन निशानेबाजों को भी पीछे छोड़ा।

इनमें वकील से निशानेबाज बने अभिषेक वर्मा भी शामिल थे जिन्होंने 219.3 का स्कोर बनाकर कांस्य पदक जीता। तीन साल पहले निशानेबाजी अपनाने वाले 11वीं के छात्र चौधरी ने कहा-मैं किसी तरह का दबाव महसूस नहीं कर रहा था। इससे कोई मदद नहीं मिलती।

संजीव राजपूत जिनपर था बलात्कार का आरोप

अब बात करते हैं संजीव राजपूत की जिनका करियर और जिंदगी बलात्कार के आरोपों के कारण दुरूह बन गयी थी। इस 37 वर्षीय अनुभवी निशानेबाज ने पुरूषों की 50 मीटर राइफल थ्री पोजीशन में रजत पदक जीता।

सामान्य परिस्थितियों में इसे थोड़ा निराशाजनक कहा जाता क्योंकि नीलिंग और प्रोन राउंड के बाद वह सबसे आगे थे लेकिन आज राजपूत ने उम्मीद जताई कि अब उन्हें फिर से नौकरी मिल जाएगी।

उन पर उनकी एक महिला साथी ने बलात्कार का आरोप लगाया जिसके बाद उनकी नौकरी भी चली गई थी। राजपूत ने कहा- उम्मीद है कि अब मुझे नौकरी मिल जाएगी। देखते हैं क्या होता है।

दिव्या काकरान ने कांस्य पदक जीता

कुश्ती में भारत को एक पदक मिला। दिव्या काकरान ने महिलाओं के 68 किग्रा भार वर्ग में कांस्य पदक जीता। यही नहीं सेपकटकरा में भी भारत ने कांस्य पदक सुरक्षित किया। भारत पालेमबांग में सेमीफाइनल में थाईलैंड से हार गया था लेकिन अंतिम चार में पहुंचने पर उसका कांस्य पदक पक्का हो गया।

वुशु में भी भारत का पदक पक्का

वुशु में भी भारत का पदक पक्का हो गया है। जकार्ता में एन रोशनी देवी महिलाओं के 60 किग्रा सैंडा स्पर्धा के सेमीफाइनल में जगह बनायी। भारत की महिला और पुरूष कबड्डी टीमों ने भी जीत दर्ज करके सेमीफाइनल में जगह सुरक्षित की। पुरूष टीम ने दक्षिण कोरिया से 23-24 से मिली हार से उबरकर ग्रुप ए के अपने चौथे और अंतिम मैच में थाईलैंड को 49-30 से हराया।

भारतीय महिला कबड्डी टीम

भारतीय महिला कबड्डी टीम ने आज दो मैच खेले और दोनों जीतकर ग्रुप ए में शीर्ष पर रहकर सेमीफाइनल में प्रवेश किया। महिला टीम ने दिन के पहले मैच में श्रीलंका को 38-12 से जबकि इंडोनेशिया को 54-22 से हराया।

टेनिस कोर्ट पर रोहन बोपन्ना और दिविज शरण

पालेमबांग में टेनिस कोर्ट पर रोहन बोपन्ना और दिविज शरण की शीर्ष वरीयता प्राप्त जोड़ी पुरूष युगल के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने में सफल रही। अंकिता रैना ने भी महिला एकल के अंतिम आठ में जगह बनायी। इस बीच निराशा भी हाथ लगी।

जिम्नास्ट दीपा कर्माकर

जिम्नास्ट दीपा कर्माकर अपनी पसंदीदा वॉल्ट स्पर्धा के फाइनल में नहीं पहुंच पायी। ओलंपिक में इसी स्पर्धा में वह चौथे स्थान पर रहकर भारत भर में जिम्नास्टिक की रानी बन गयी थी। उन्होंने हालांकि बैलेंस बीम के फाइनल में जगह बनायी। तैराक वीरधवल खाड़े पुरूषों के 50 मीटर फ्रीस्टाइल में मामूली अंतर से पदक से चूक गये। वह 22.47 सेकेंड के साथ चौथे स्थान पर रहे।

भारतीय महिला वॉलीबाल टीम

भारतीय महिला वॉलीबाल टीम को पूल बी में वियतनाम से 0-3 से हार का सामना करना पड़ा। यह उसकी दूसरी हार है। महिला हैंडबाल टीम का लगातार चौथी हार के बाद अभियान समाप्त हो गया। भारत ग्रुप ए में अपने अंतिम मैच में उत्तर कोरिया से 19-49 से हार गया।

भारत अब तक सातवें स्थान पर

भारत अब तक पदक तालिका में तीन स्वर्ण, तीन रजत और चार कांस्य सहित दस पदक लेकर सातवें स्थान पर है। चीन 30 स्वर्ण, 18 रजत और 12 कांस्य लेकर शीर्ष पर है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story