Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बांग्लादेश ने रोमांचक मैच में अफगानिस्तान को 3 रन से हराया, ऐसा था आखिरी ओवर का रोमांच

बांग्लादेश ने एशिया कप सुपर फोर के बेहद रोमांचक मैच में अफगानिस्तान को तीन रन से हराया जिससे भारत की फाइनल में जगह पक्की हो गई।

बांग्लादेश ने रोमांचक मैच में अफगानिस्तान को 3 रन से हराया, ऐसा था आखिरी ओवर का रोमांच

बांग्लादेश ने एशिया कप सुपर फोर के बेहद रोमांचक मैच में अफगानिस्तान को तीन रन से हराया जिससे भारत की फाइनल में जगह पक्की हो गई। महमुदुल्लाह (74) और इमरूल कायेस (नाबाद 72) के बीच छठे विकेट के लिए 128 रन की साझेदारी से बांग्लादेश ने शुरुआती झटकों से उबरकर सात विकेट पर 249 का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया।

सलामी बल्लेबाज लिट्टन दास (41) और मुशफिकर रहीम (33) के उपयोगी योगदान के बावजूद बांग्लादेश की आधी टीम 87 रन के योग पर पवेलियन लौट गयी थी। अफगानिस्तान के सामने चुनौतीपूर्ण लक्ष्य था लेकिन अच्छी फॉर्म में चल रहे हशमतुल्लाह शाहिदी (71) ने फिर से अच्छी पारी खेली।

उन्होंने मोहम्मद शहजाद (53) के साथ तीसरे विकेट के लिए 63 और कप्तान अशगर अफगान (39) के साथ चौथे विकेट के लिए 78 रन की साझेदारियां की। इसके बाद मोहम्मद नबी (28 गेंदों पर 38 रन) और समीउल्लाह शेनवारी (नाबाद 23) ने छठे विकेट के लिए 46 रन जोड़े।

अफगानिस्तान को आखिरी ओवर में आठ रन चाहिए थे। मुस्ताफिजुर रहमान ने इस ओवर में केवल चार रन दिए और एक विकेट भी लिया। इस तरह से अफगानिस्तान आखिर में सात विकेट पर 246 रन तक ही पहुंच पाया। बांग्लादेश की जीत से भारत की फाइनल में जगह पक्की हो गई है।

अफगानिस्तान की यह लगातार दूसरी हार है जिससे वह फाइनल की दौड़ से बाहर हो गया है। उसे अपना अगला मैच भारत से खेलना है। बांग्लादेश ने अपनी पहली जीत दर्ज की और अब पाकिस्तान के खिलाफ बुधवार को होने वाला उसका मैच सेमीफाइनल जैसा बन गया है।

अफगानिस्तान ने एहसानुल्लाह (आठ) और रहमत शाह (एक) के विकेट जल्दी गंवा दिये, लेकिन शहजाद और शाहिदी ने संभलकर बल्लेबाजी की। इन दोनों में शहजाद ने रन बनाने की मुख्य जिम्मेदारी निभायी तथा 73 गेंदों पर अपना अर्धशतक पूरा किया, लेकिन वह इसके तुरंत बाद आउट हो गए।

उनका स्थान लेने के लिए कप्तान अशगर भी अपेक्षित तेजी से रन नहीं बना पाये। बांग्लादेश के कप्तान मशरेफी मुर्तजा ने उन्हें आउट करने के बाद शाहिदी को बोल्ड किया और अपनी टीम की उम्मीदें जगाई। इसके बाद मोहम्मद नबी और समीउल्लाह शेनवारी ने जिम्मा संभाला लेकिन वे टीम को लक्ष्य तक नहीं पहुंचा पाए

इससे पहले आफताब आलम (54 रन देकर तीन विकेट) और मुजीब उर रहमान (35 रन देकर एक) ने पहले छह ओवरों में ही नजमुल हुसैन (छह) और मोहम्मद मिथुन (एक) को आउट करके बांग्लादेश के पहले बल्लेबाजी के फैसले को गलत साबित करने की कोशिश की।

लिट्टन और मुशफिकर ने तीसरे विकेट के लिये 63 रन की साझेदारी की लेकिन ये दोनों बल्लेबाज तथा आलराउंडर शाकिब अल हसन (शून्य) छह रन के अंदर आउट हो गये जिससे बांग्लादेश फिर से बैकफुट पर चला गया।

लेग स्पिनर राशिद खान (46 रन देकर एक) ने लिट्टन को आउट करके यह साझेदारी तोड़ी जबकि शाकिब और मुशफिकर दोनों के रन आउट होने से मध्यक्रम लड़खड़ा गया। महमुदुल्लाह और कायेस ने शुरू में सतर्कता बरती लेकिन ढीली गेंदों पर करारे शाट भी लगाए।

महमुदुल्लाह ने आफताब की गेंद पर सीमा रेखा पर कैच थमाने से पहले 81 गेंद की अपनी पारी में तीन चौके और दो छक्के लगाये। कायेस की 89 गेंद की पारी में छह चौके शामिल हैं। कप्तान मशरेफी मुर्तजा ने दस रन बनाए।

Share it
Top