Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

रियो में बड़ा ड्रामा, फैसले से नाराज कुश्ती के कोच ने उतारे कपड़े

उज्बेकिस्तान और मंगोलिया के पहलवानों के मुकाबले में विवाद

रियो में बड़ा ड्रामा, फैसले से नाराज कुश्ती के कोच ने उतारे कपड़े

रियो डी जेनेरियो. रियो ओलिंपिक के कुश्ती एरिना में रविवार को उस समय अप्रिय स्थिति उत्पन्न हो गई जब दो मंगोलियाई कोचेस ने मैट पर अपने कपड़े उतारकर जजेस के फैसले का विरोध किया। जजेस द्वारा अपने पहलवान मंदाखनारन गेंजोरिग के खिलाफ उज्बेकिस्तान के इख्तियार नवरुजोव को पेनल्टी अंक प्रदान करने के फैसले से नाराज इन मंगोलियाई कोचेस ने कपड़े उतारे। मंगोलिया के चीफ कोच सेरेनबतार सोगतबयार और सहायक कोच ब्यांबरेनचिन बयारा ने मैट पर शर्ट और पेंट उतारी।

फ्रीस्टाइल 65 किग्रा वर्ग में कांस्य पदक के लिए नवरुजोव और गेंजोरिग के बीच मुकाबला चल रहा था और 18 सेकंड शेष रहते मंगोलियाई पहलवान 7-6 से आगे चल रहा था। इसी समय उसने नवरुजोव की पकड़ से छूटने के बाद समय काटने के लिहाज से मैट पर दौड़ना शुरू कर दिया। समय पूरा होते ही ऐसा लगा कि गेंजोरिग मुकाबला जीत गया है तो उसके कोचेस दौड़कर मैट पर आ गए और उन्होंने जश्न मनाना शुरू कर दिया।
फैसले को किया चैलेंज
दोनों मंगोलियाई कोचेस ने फैसले को चैलेंज किया, लेकिन उन्हें जजेस ने बताया कि इस फैसले को चुनौती नहीं दी जा सकती है तो दोनों गुस्से में आ गए। उन्होंने विरोध स्वरूप अपने कपड़े उतारने शुरू कर दिए। गंजोरिग तो घुटनों के बल बैठ गए। इस बीच दोनों कोचेस ने पहले शर्ट और फिर पेंट उतार दी।
निर्णय बताया गलत
सुरक्षाकर्मी इसके बाद उन्हें अंडरवियर में मैट से बाहर ले जाया गया। इस बीच जजेस ने उज्बेकी पहलवान नवरुजोव को एक और पेनल्टी अंक दिया और वे 8-7 से विजय हुए। बयारा ने कहा, जजेस का निर्णय गलत था। पूरा स्टेडियम हमारे साथ था और हमारा पहलवान जीत गया था।
जज का फैसला
जजेस ने मंगोलियाई पहलवान द्वारा लड़ने की बजाय भागने पर नवरुजोव को एक पेनल्टी अंक प्रदान किया। अंतिम अंक के सहारे बराबरी पर पहुंचकर उज्बेकी यह मुकाबला जीत चुका था। इसी के साथ जश्न मनाने की बारी उज्बेकी पहलवान और उनके कोचेस की थी।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलोकरें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top