Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान: पानी नहीं तो दुल्हन नहीं, गांवों में कुंवारे बैठे हैं लड़के

जाट युवकों ने प्रधानमंत्री और राज्य की मुख्यमंत्री से मदद की लगाई गुहार।

राजस्थान: पानी नहीं तो दुल्हन नहीं, गांवों में कुंवारे बैठे हैं लड़के
X

कबीर के दोहे में 'बिन पानी सब सून' तो सबने सुना होगा, लेकिन राजस्थान के कई गांवों में पानी की कमी के चलते घर भी सूने हैं। पानी की समस्या की वजह से जाट बाहुल्य वाले इन गांवों में कुंवारे लड़कों की शादी नहीं हो रही।

कोई भी इन इलाकों में अपनी बेटी ब्याहने को तैयार नहीं है। शादी न होने और पानी की कमी से परेशान जाट युवकों ने प्रधानमंत्री और राज्य की मुख्यमंत्री से मदद की गुहार लगाई है।

ये भी पढ़े- आपत्तिजनक स्थिति में पकड़े गए प्रेमी-प्रेमिका, गांववालों ने पेड़ से बांधकर की धुनाई

अलवर जिले के भरतपुर और ढोलपुर गांवों में पानी की दिक्कत की वजह से लड़कों की शादी नहीं हो पा रही, क्योंकि कोई भी इन गांवों में अपनी बेटी नहीं भेजना चाहता।

ऐसे हालात से परेशान होकर इलाके के जाट नेता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राजस्थान की मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे को चिट्ठी लिखकर इलाके के 30 से 40 गांवों में पास की नदियों और गुड़गांव नहर से पानी की सप्लाई सुनिश्चित करने को कहा है।

साढ़े चार हजार युवा कुंवारे

पानी की समस्या से जूझ रहे 40 गांवों के करीब 3,500 से 4,500 युवा कुंवारे बैठे हैं क्योंकि कोई उन इलाकों में अपनी बेटी की शादी नहीं करना चाहता जहां पानी की कमी है।

ये भी पढ़े- अस्पताल ने नहीं दी एंबुलेंस तो रिक्शा में रखकर लाना पड़ा शव

स्थानीय लोगों का कहना है कि आस-पास के लगभग सभी पानी के स्रोत सूख चुके हैं। भरतपुर जिला परिषद के सदस्य नेम सिंह फौजदार ने बताया, 'पानी की कमी से न केवल खेती पर असर हुआ है।

बल्कि इसके चलते कई लोग अपनी बेटियों की शादी इन जिलों के बाहर और कई तो अन्य राज्यों में करना चाहते हैं। ऐसे में लड़के कुंवारे बैठे हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story