Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कोटा में मंत्री जी के स्वागत से पहले हटाया ग्रीन कार्पेट, ईरानी और सीएम गहलोत में बयानबाजी

राजस्थान में कोटा के जेके लोन अस्पताल में बच्चों 104 बच्चों की मौत पर केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी कहा है कि इतनी मौतों के बाद भी राज्य सरकार ने इस ओर ध्यान नहीं दिया।

कोटा में मंत्री जी के स्वागत से पहले हटाया ग्रीन कार्पेट, ईरानी और सीएम गहलोत में बयानबाजी आई सामने
X
केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी (फाइल फोटो)

राजस्थान में कोटा के जेके लोन अस्पताल में बच्चों 104 बच्चों की मौत हो चुकी है। इस मामले में केन्द्र ने अब अपना हस्तक्षेप किया है। आज केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की एक विशेष टीम राजस्थान के कोटा स्थित जे.के. लोन पहुंची। साल के पहले दिन 3 बच्चों ने दम तोड़ा, जबकि गुरुवार को एक बच्चे की मौत हुई। इस मामले में केन्द्र अब अपना हस्तक्षेप किया है। इस मामले में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा है कि बच्चों की लगातार हो रही मौतों के बाद भी राजस्थान सरकार ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। स्मृति ईरानी ने इशारों- इशारों में राजस्थान सरकार पर इसका आरोप लगाया। मंत्री ने आगे कहा कि सरकार को यह जवाब देने की जरूरत है कि वे इस लापरवाही के लिए किसे दंड देंगे?

अस्पताल ने बिछाया कारपेट

एक तरफ कोटा के जेके लोन अस्पताल बच्चों की मौतों को नहीं रोक पा रहा। वहीं आज अस्पताल प्रशासन ने स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा के दौरे को देखते हुए वहां कमराें में पुताई कराई गई। युद्ध स्तर पर सफाई अभियान चलाया गया। चौंकाने वाली बात यह सामने आई कि अस्पताल प्रशासन ने मंत्री जी के लिए कारपेट तक बिछा दिया गया। बाद में मीडिया की उपस्थिति को देखते हुए उसे आनन-फानन में हटा दिया गया।

35 दिन में 104 बच्चों की मौत के बाद सीएम अशोक गहलोत ने दिया संवेदनहीन बयान

राजस्थान कोटा के अस्पताल में लगातार हो रही बच्चों की मौत ने अब राजनीतिक रुप ले लिया है। इस बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का एक बयान सामने आया हैं। उन्होंने कहा कि चिकित्सा मंत्री को कोटा जाने की जरूरत नहीं है। यह तो मीडिया ने माहौल बनाया है इसलिए मंत्री को कोटा जाना पड़ा। बीजेपी की सरकार थी तो 1000 बच्चे मरते थे और हमारे समय में 900 बच्चे मर रहे हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि नवजात बच्चों की मौत बहुत गंभीर बात है।

Next Story
Top