Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Viral Video: विधायक ने पूछा कौन अच्छा, बुजुर्ग महिला ने मोदी का लिया नाम तो कहा राशन छोड़-दीया जला

Viral Video: ऐसे मुश्किल समय में जहां लोग भेदभाव मिटाते हुए गरीबों की मदद करने में लगे हुए हैं। वहीं कुछ लोग ऐसे भी जो ऐसे मौके पर राजनीति करने से पीछे नहीं हट रहे हैं। जिसका उदाहरण ये सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो है। जहां मोदी को अच्छा बताने की वजह से उससे राजस्थान (Rajasthan) के विधायक ने राशन वापस ले लिया गया।

Viral Video: राशन बांटते हुए विधायक ने पूछा कौन अच्छा, बुजुर्ग महिला ने मोदी का लिया नाम तो कहा राशन छोड़, दीया जलाओं
X

Viral Video: कोरोना वायरस (Coronavirus) के खतरे को देशभर में लॉकडाउन (Lockdown) की स्थिति है। जिसके चलते लोगों को काफी दिक्कतों का सामना भी करना पड़ रहा है। वहीं गरीबों की मदद के लिए सरकार (Government) और सामाजिक संस्थाएं राशन बांट रहे हैं। जहां लोग भेदभाव मिटाते हुए गरीबों की मदद करने में लगे हुए हैं। वहीं कुछ लोग ऐसे भी जो ऐसे मौके पर राजनीति करने से पीछे नहीं हट रहे हैं। जिसका उदाहरण ये सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो है। जहां मोदी को अच्छा बताने की वजह से उससे राजस्थान (Rajasthan) के विधायक ने राशन वापस ले लिया गया।

जाओ घर जाओ, राशन छोड़ो और दिए जलाओ

यह वीडियो राजस्थान के चित्तौड़गढ़ का है। जहां कांग्रेस विधायक राजेन्द्र सिंह राशन सामग्री बांटते हुए महिला से पूछते हैं कि अशोक गहलोत अच्छा है या पीएम मोदी। जिस पर महिला जवाब में मोदी का नाम लेती है। जिसके बाद महिला से राशन वापस ले लिया जाता है। वहीं राजेन्द्र सिंह कहते हैं जाओ घर जाओ, राशन छोड़ो और दिए जलाओ। जिसके बाद से विधायक राजेन्द्र सिंह लगातार सुर्खियो में बने हुए हैं। इसके साथ ही यह वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वहीं इस वीडियो को संबित पात्रा के साथ कई और नेताओं ने शेयर किया है।

संबित पात्रा ने शेयर किया वीडियो

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने वीडियो शेयर करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष साेनिया गांधी पर निशाना साधा है। इसके साथ ही उन्होंने लिखा कि यह question paper आप ने सेट किया है कांग्रेस शासित राज्यों के लिए? वहीं संबित पात्रा लिखते हैं कि राशन देते समय पूछा जाता है की बोलो मोदी अच्छा है या अशोक गहलोत? और अगर बूढ़ी माँ मोदी का नाम लेती है तो उससे राशन वापस लिया जाता है। आप के विधायकों को शर्म आनी चाहिए इस अमानवीय व्यवहार के लिए।


Shagufta Khanam

Shagufta Khanam

Jr. Sub Editor


Next Story