Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

गोतस्करी में मारे गए पहलू खान को लेकर दायर चार्जशीट को लेकर घमासान, ओवैसी का बड़ा बयान

राजस्थान पुलिस द्वारा गोतस्करी के संदेह में भीड़ द्वारा पीट-पीटकर की गई हत्या के बाद दायर याचिका पर सियासी हलचल शुरू हो गई है। AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कांग्रेस को भाजपा के नक्शेकदम पर चलने की बात कही। तो वहीं भाजपा के नेता ज्ञानदेव अहूजा ने पहलू खान व उसके परिवार को ही कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि ये पहले से ही अपराधिक छवि के रहे हैं।

गोतस्करी में मारे गए पहलू खान को लेकर दायर चार्जशीट को लेकर घमासान, ओवैसी का बड़ा बयान
X
rajasthan police has filed chargesheet against pehlu khan for cow smuggling alwar beaten to death by mob

राजस्थान पुलिस द्वारा गोतस्करी के संदेह में भीड़ द्वारा पीट-पीटकर की गई हत्या के बाद दायर याचिका पर सियासी हलचल शुरू हो गई है। AIMIM के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने कांग्रेस को भाजपा के नक्शेकदम पर चलने की बात कही। तो वहीं भाजपा के नेता ज्ञानदेव अहूजा ने पहलू खान व उसके परिवार को ही कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि ये पहले से ही अपराधिक छवि के रहे हैं।

ओवैसी ने ट्वीट करते हुए कहा कि राजस्थान के मुसलमानों को इस बात को समझना चाहिए कि सत्ता के बाद कांग्रेस भी भाजपा की कॉपी बन गई है। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों और संगठनों को नकार देना चाहिए जो कांग्रेस पार्टी के दलाल हैं। साथ ही उन्होंने मुस्लिमों से अपील करते हुए कहा कि मुसलमान को अपना स्वतंत्र राजनीतिक प्लैटफॉर्म तैयार करना चाहिए। 70 सालों के बाद अब बदलाव का वक्त है।

असदुद्दीन ओवैसी ने दूसरे ट्वीट के जरिए राजस्थान के मुसलमानों से कांग्रेस का समर्थन न करने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि पार्टी ने हमेशा विश्वासघात किया है। जब भी कांग्रेस सत्ता में आते हैं। वे भाजपा के जैसे ही बन जाती है। विरोध करने पर घड़ियाली आंसू बहाते हैं। पर सत्ता की कुर्सी पर बैठकर भाजपा का ही काम पूरा करते हैं।

राजस्थान पुलिस की नई चार्जशीट पिछले वर्ष दिसंबर की 30 तारीख को तैयार किया गया था जिसमें पहलू खान को मरणोपरांत आरोप लगाया गया है, इस दौरान प्रदेश में सत्ता परिवर्तन हो चुका था भाजपा के स्थान पर कांग्रेस के गोहलोत के हाथों में सत्ता आ चुकी थी। दिसंबर में तैयार हुई चार्जशीट को 29 मई को बहरोर में आडिशनल चीफ जुडिशल मजिस्ट्रैट के सामने पेश किया गया था। जिसमें पहलू खान समेत उनके बेटों पर राजस्थान बोवाइन ऐनिमल ऐक्ट 1995 और नियम 1995 की धारा 5,8 और 9 के अन्तर्गत चार्जशीट दायर की गई।


चार्जशीट दायर होने के मामले में बयान देने से भाजपा के नेता भी पीछे नहीं रहे ज्ञानदेव आहूजा ने कहा कि पहलू खान उनके भाई और बेटे आदतन अपराधी थे और गोतस्करी में शामिल थे। साथ ही आहूजा ने गोरक्षक और हिन्दू परिषद पर लगे सभी आरोपों को भी गलत और निराधार बताया। पुलिस द्वारा दायर याचिका को लेकर पहलू खान के बेटे ने कहा कि एक तो भीड़ ने हमारे पिता को पीट पीटकर मार डाला और अब पुलिस हमीं को दोषी ठहरा रही है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस से उम्मीद थी पर वह भी भाजपा के नक्शेकदम पर चल रही है।

बता दें कि 1 अप्रैल 2017 को मवेशियों से लदी एक पिक अप गाड़ी को गोरक्षकों ने गोतस्करी के संदेह में रोक लिया और पीटना शुरू कर दिया। देखते ही देखते वहां काफी भीड़ जुट गई और लोगों ने पहलू खान और उनके साथ लोगों को दौड़ा दौड़ाकर पीटने लगे। जब तक पुलिस आती तब तक पीट पीटकर अधमरा कर दिया गया। पहलू खान को अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहां तीसरे दिन उसकी मौत हो गई।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story