Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान के शिक्षामंत्री बोलेः प्रतिभा खोज परीक्षा योजना से नहीं हटाया जाएगा दीनदयाल उपाध्याय का नाम

राजस्थान के शिक्षा मंत्री जीएस डोटासरा ने साफ किया है कि माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की प्रतिभा खोज परीक्षा योजना के आगे से पंडित दीन दयाल उपाध्याय का नाम नहीं हटाया जाएगा। उन्होंने बताया कि सरकार ने आदेश दिया है कि परीक्षा का नाम नहीं बदला जाएगा और इसे भविष्य में इसी नाम से जाना जाता रहेगा।

राजस्थान के शिक्षामंत्री बोलेः प्रतिभा खोज परीक्षा योजना से नहीं हटाया जाएगा दीनदयाल उपाध्याय का नाम
X

राजस्थान के शिक्षा मंत्री जीएस डोटासरा ने साफ किया है कि माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की प्रतिभा खोज परीक्षा योजना के आगे से पंडित दीन दयाल उपाध्याय का नाम नहीं हटाया जाएगा। उन्होंने बताया कि सरकार ने आदेश दिया है कि परीक्षा का नाम नहीं बदला जाएगा और इसे भविष्य में इसी नाम से जाना जाता रहेगा।

बता दें कि इससे पहले खबरें सामने आई थीं कि राजस्थान की गहलोत सरकार ने ऱाष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के विचारक और भारतीय जनता पार्टी के संस्थापक पंडित दीनदयान उपाध्याय का नाम हटा दिया है। बता दें कि वसुंधरा राजे सरकार में राज्य में दीनदयाल उपाध्याय के नाम से स्कॉलरशिप योजना शुरू की गई थी।

बताया जा रहा था कि अशोक गहलोत की सरकार ने माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की प्रतिभा खोज परीक्षा के तहत भाजपा सरकार के द्वारा शुरू की गई पंडित दीनदयाल उपाध्याय छात्रवृत्ति योजना का नाम बदलकर अब माध्यमिक शिक्षा बोर्ड स्कॉलरशिप कर दिया है।

इस पर भाजपा नेता और पूर्व शिक्षामंत्री वासुदेव देवनानी का कहना है कि राजस्थान सरकार को दीनदयाल उपाध्याय के नाम से डर लगता है, लिहाजा एक-एक करके सभी योजनाओं से उनका नाम हटा रहे हैं। इससे पहले भी स्कूली किताबों में दीनदयाल उपाध्याय के चैप्टर को कम कर दिया गया था।

इससे पहले राजस्थान सरकार ने हाल ही में एक कमिटी गठित कर सावरकर की लघु आत्मकथा का पुनरीक्षण कर उनके नाम के आगे से 'वीर' शब्द हटाकर विनायक दामोदर सावरकर को महात्मा गांधी की हत्या का षड्यंत्र करने और उनकी हत्या करने वाले नाथूराम गोडसे का समर्थक बताया था।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story