Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मानसून सत्र के बाद राजस्थान पहुंचेंगे राहुल गांधी, चुनावी तैयारियां में जुटी कांग्रेस

संसद के मौजूदा मानसून सत्र के समापन के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी प्रदेश के दौरे पर आने की संभावना है। राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने बताया कि जल्दी ही कांग्रेस अध्यक्ष के कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया जाएगा।

मानसून सत्र के बाद राजस्थान पहुंचेंगे राहुल गांधी, चुनावी तैयारियां में जुटी कांग्रेस
X

संसद के मौजूदा मानसून सत्र के समापन के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी प्रदेश के दौरे पर आने की संभावना है। राजस्थान प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने बताया कि जल्दी ही कांग्रेस अध्यक्ष के कार्यक्रम को अंतिम रूप दिया जाएगा।

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष सचिन पायलट ने बताया कि राहुल गांधी के कार्यक्रम को शीघ्र ही अंतिम रूप दिया जायेगा। संसद के मानसून सत्र की समाप्ति के बाद उनके प्रदेश दौरे पर आने की संभावना है।
पायलट ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि पार्टी अध्यक्ष के प्रदेश दौरे के कार्यक्रम को शीघ्र अंतिम रूप दिया जायेगा। उनके 10 अगस्त के बाद प्रदेश दौरे पर आने की संभावना है। प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय पर पायलट ने कहा कि कांग्रेस पार्टी की चुनावी तैयारियां पूरे जोर से चल रही है और ना केवल ब्लॉक स्तर से प्रदेश स्तर तक भाजपा को चुनौती देने में समक्ष है, बल्कि हम भाजपा को हराने के लिये तैयार है।
उन्होंने मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे पर निशाना साधते हुए कहा कि मुख्यमंत्री को राजसमंद जिले से चार अगस्त को शुरू होने वाली प्रस्तावित 'राजस्थान गौरव यात्रा' के स्थान पर 'जवाबदेही यात्रा' निकालनी चाहिए।
पायलट ने कहा कि मुख्यमंत्री पिछले चार सालों से प्रदेश की जनता से दूर रहीं और अब लोगों के सम्पर्क में आने की कोशिश कर रही है, लेकिन जनता ने उन्हें नकार दिया है। उन्हें केवल पार्टी कार्यकर्ताओं से सम्पर्क बनाने की बजाय जनता के प्रश्नो का जवाब देना चाहिए। उन्होंने आगामी विधानसभा चुनावों में कांग्रेस पार्टी में मुख्यमंत्री पद पर हाल में उठे विवाद पर कहा कि उनका लक्ष्य प्रदेश में पार्टी की जीत सुनिश्चित करना है।
पायलट ने कहा कि लोग उम्मीदों के साथ कांग्रेस पार्टी की ओर देख रहे है और मेरा लक्ष्य चुनावों में पार्टी की जीत सुनिश्चित करना है। पार्टी के नेता और कार्यकर्ता पार्टी के लिये सालों से मेहनत कर रहें हैं, और जो लोग उच्च पदों पर पहुंचे है, वो भी पार्टी की वजह से पहुंचे है।
कांग्रेस पार्टी में पिछले सप्ताह मुख्यमंत्री पद के लिये उस समय विवाद पैदा हो गया था जब एक पूर्व सासंद ने पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के नेतृत्व में चुनाव लडे जाने की वकालत की थी, और जब गहलोत से इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा था कि जनता के सामने वह दस साल तक पार्टी का चेहरा रहे हैं।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story