Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Kota Live: कोटा में मरने वाले बच्चों का आंकड़ा पहुंचा 107, सचिन पायलट ने अपनी ही सरकार को घेरा

राजस्थान (Rajasthan) के कोटा (Kota) शहर के जेके लोन अस्पताल (JK Lom Hospital) में बच्चों की मौत का सिलसिला थम नहीं रहा है। शनिवार को 1 और बच्चे ने दम तोड़ दिया। अब मरने वाले बच्चों की संख्या 107 हो गई है।

Kota Live: कोटा में मरने वाले बच्चों का आंकड़ा पहुंचा 107, सचिन पायलट ने अपनी ही सरकार को घेरा
X
सचिन पायलय

राजस्थान (Rajasthan) के कोटा (Kota) शहर के जेके लोन अस्पताल (JK Lom Hospital) में शनिवार को 1 और बच्चे ने दम तोड दिया है। अब मरने वाले बच्चों की संख्या 107 हो गई है। बच्चे की मौत से अस्पताल में हड़कंप मच गया। ये मासूम बीते दो जनवरी को बारां (Baran) से रेफर होकर यहां आया था। अपने नवजात बच्चे को खोने के गम में उसकी मां की भी मौत हो गई। परिजनों का आरोप है कि मांगरोल निवासी ज्याति को बारां अस्पताल में गलत ब्लड चढ़ाया गया था। ये मृतक बच्चा सात माह का था।

पीड़ित परिवारों से मिले सचिन पायलट

डिप्टी सीएम सचिन पायलट (Deputy CM Sachin Pilot) कोटा पहुंचे। पायलट ने यहां आते ही सबसे पहले पीड़ित परिवारों (Afflicted families) से मुलाकात की। इसके लिए वे सबसे पहले शहर के छतरपुरा इलाके में पहुंचे। पायलट ने इस दौरान बच्चों की मौत पर दुख जताते हुए पीड़ितों को हरसंभव मदद (All possible help) का भरोसा दिलाया। डिप्टी सीएम सचिन पायलट छतरपुरा इलाके में संजय रावल के घर पहुंचे। संजय रावल के 6 महीने के पुत्र तेजस की इलाज के दौरान 23 दिसंबर को मौत हो गई थी। पायलट ने संजय रावल और उनके परिजनों से मुलाकात की। परिजनों ने डिप्टी सीएम पायलट को अस्पताल में इलाज के दौरान सुरक्षाकर्मियों के बर्ताव सहित अन्य शिकायतें की। पायलट ने बच्चे की मौत पर दुख जताते हुए उन्हें हरसंभव मदद का भरोसा दिलाया। इसके साथ ही कहा कि दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। उसके बाद डिप्टी सीएम सचिन पायलट विज्ञान नगर इलाके में भी पीड़ित परिवार से मिलने पहुंचे और उनको ढांढस बंधाया।

जिम्मेदारी तय करनी होगी

कोटा में बच्चों की मौत पर सचिन पायलट ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत पर निशाना साधते हुए कहा कि हमें जिम्मेदारी तय करनी होगी। सचिन पायलट ने कहा कि पहले क्या हुआ इस पर चर्चा नहीं होनी चाहिए। वसुंधरा को जनता ने हरा दिया लेकिन अब जिम्मेदारी हमारी है। मुझे लगता है कि पिछली सरकार को दोष देना हमारा उद्देश्य नहीं है।


लोकसभा अध्यक्ष पीड़ित परिवारों से मिले

शनिवार सुबह लोकसभा अध्यक्ष और कोटा से बीजेपी सांसद ओम बिरला अस्पताल में मौत के शिकार हुए बच्चों के घर पहुंचे। वो कोटा के अनंतपुरा स्थित सुभाष विहार में मृतक बच्ची के परिजनों से मिले। पीड़ित रुखसार बानो ने बीते 16 दिसंबर को एक बच्ची को जन्म दिया था। रुखसार बानो ने अस्पताल प्रशासन पर कई गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि इलाज में बरती गई लापरवाही की वजह से 29 दिसंबर को उनकी नवजात बच्ची ने दम तोड़ दिया। लोकसभा बिला ने मृतक बच्ची की मां रुखसार बानो को आर्थिक सहायता उपलब्ध करवाई।

सीएम अशोक गहलोत करेंगे प्रेसवार्ता

राजस्थान (Rajasthan) के कोटा (Kota) शहर के जेके लोन अस्पताल (JK Lom Hospital) में शनिवार को एक बच्चे की और मौत का मामला सामने आया है। इस मुद्दे पर आज शाम 4 बजे सीएम अशोक गहलोत एक प्रेसवार्ता कर सकते हैं।





Next Story