Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

राजस्थान : मॉब लिंचिंग के शिकार हरीश जाटव के पिता ने की आत्महत्या, आक्रोशित दलित समाज ने पुलिस को दी चेतावनी

राजस्थान में पहलू खान मॉब लिंचिंग मामले में कोर्ट ने सभी आरोपियों को बरी कर दिया। मॉब लिंचिंग केस को लेकर राज्य के सीएम अशोक गहलोत बीते तीन दिनों से मामले में फिर से अपील की बात कर रहे हैं, लेकिन इसी बीच एक और मॉब लिंचिंग केस पर बवाल शुरू हो गया है।

राजस्थान : मॉब लिंचिंग के शिकार हरीश जाटव के पिता ने की आत्महत्या, आक्रोशित दलित समाज ने पुलिस को दी चेतावनी

राजस्थान में पहलू खान मॉब लिंचिंग मामले में कोर्ट ने सभी आरोपियों को बरी कर दिया। मॉब लिंचिंग केस को लेकर राज्य के सीएम अशोक गहलोत बीते तीन दिनों से मामले में फिर से अपील की बात कर रहे हैं, लेकिन इसी बीच एक और मॉब लिंचिंग केस पर बवाल शुरू हो गया है।

दरअसल अलवर में दलित युवक हरीश जाटव की मॉब लिंचिंग में मौत हो गई। लेकिन अभी तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हो पाई और कथित रूप से केस वापस लेने के धमकियों के बाद 15 अगस्त के दिन हरीश जाटव के नेत्रहीन पिता रत्तीराम जाटव आत्महत्या कर ली। घटना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और क्षति नियंत्रण में जुटे हैं।

बताया जा रहा है कि दलित युवक हरीश जाटव मॉब लिंचिंग केस पुलिस की लापरवाही और पिता के आत्महत्या करने से लोग आक्रोशित हैं। दलित समाज के लिए टपूकड़ा में जमा हो रहें हैं, उन्होंने धमकी दी है कि अगर एक घंटे के भीतर आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई तो हाइवे जाम करेंगे।

आक्रोश को देखते हुए टपूकड़ा में किसी भी स्थिति से निपटने के लिए भारी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है। खबर है कि भारतीय जनता पार्टी के नेता और बसपा नेता भी टपूकड़ा पहुंच रहे हैं।

गौरतलब है कि 17 जुलाई को अलवर जिले के भिवाड़ी के झिवाना गांव निवासी दलित युवक हरीश जाटव मॉब लिंचिंग की गई थी। गंभीर हालत में हरीश को अस्पताल ले जाया गया जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

इसके बाद परिवार वालों ने थानें में रिपोर्ट दर्ज कराई। आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं होने और आरोपियों की और पीड़ित परिवार को केस वापस लेने की धमकियों मिल रही थी। जिससे परेशान होकर हरीश के नेत्रहीन पिता ने गुरुवार को आत्महत्या कर ली।

Share it
Top