Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

पिछले एक साल में राजस्थान में बढ़ा भ्रष्टाचार, 445 मामले दर्ज

पिछले एक साल में जयपुर में 55, अजमेर में 20, जोधपुर में 22, कोटा में 28, उदयपुर में 28 और भीलवाड़ा में 26 मामले सामने आए हैं।

पिछले एक साल में राज्य में बढ़ा भ्रष्टाचार, 445 मामले दर्ज
X
पिछले एक साल में राज्य में बढ़ा भ्रष्टाचार

केन्द्र सरकार नें भ्रष्टाचार पर पाबंदी लगाने के कई तरीके लगाए। लेकिन कुछ हासिल नहीं हुआ। पिछले एक साल में राजस्थान में भ्रष्टाचार के मामले में बढ़ोत्तरी ही हुई। जो आंकड़ा 2018 में 372 था, वो बढ़कर 445 पहुंच गया। 2019 में सरकारी कर्मचारियों के भ्रष्टाचार के मामले बढ़कर 445 हो गए। वहीं अकेले जयपुर में सबसे अधिक भ्रष्टाचार के मामलों के केस आए। जयपुर में 55 मामले आए जिसमें सरकारी कर्मचारियों से 1.6 करोड़ की राशि बरामद की गई।

विधानसभा में गुलाब कटारिया ने की थी आंकड़ों की मांग

गुलाब चंद कटारिया ने विधानसभा में प्रश्न पूछा था कि नई सरकार के आने के बाद पिछले एक साल में राजस्थान में भ्रष्टाचार के कितने मामले सामने आए। जिसके जवाब में ये बात सामने आई कि जनवरी 2019 से जनवरी 2020 के बीच 28 ऐसे मामले आए जिसमें सरकारी अधिकारियों के पास आय से अधिक संपत्ति मिली। 91 मामलों में पद का दुरुपयोग और अनियमितता की बात सामने आई। वहीं 326 मामलों में कर्मचारियों और अधिकारियों को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा गया।

इतने हो चुके हैं गिरफ्तार

भ्रष्टाचार के मामलों में अब तक 293 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। इन मामलों में ये लोग शामिल हैं।

  1. पुलिस
  2. पुलिस कमिश्नर
  3. को-ऑपरेटिव मैनेजर
  4. सरपंच
  5. विभागों के डायरेक्टर
  6. जिला शिक्षा अधिकारी
  7. थाना इंचार्ज
  8. कांस्टेबल
  9. लिपिक, इत्यादि

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो है गठित

भ्रष्टाचार के मामलों पर नजर रखने के लिए भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो गठित है। जो पुलिस महानिदेशक जैसे बड़े अधिकारियों के नेतृत्व में काम करता है। पिछले एक साल में जयपुर में 55, अजमेर में 20, जोधपुर में 22, कोटा में 28, उदयपुर में 28 और भीलवाड़ा में 26 मामले सामने आए हैं। जिसमें 1 करोड़ 60 लाख 95 हजार 715 रुपये की रकम बरामद की गई है। सरकार के अनुसार इन मामलों के लिए सरकार की तरफ से एक फोन नंबर भी जारी किया गया है। जिसके जरिए कोई भी व्यक्ति अपनी पहचान बताए बिना भ्रष्टाचार की सूचना दे सकता है।

Next Story