logo
Breaking

कांग्रेस में बवाल: बेटे के टिकट पर राहुल की नाराजगी पर बोले सीएम गहलोत, 'उन्हें कहने का पूरा अधिकार'

सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि राहुल गांधी जी पार्टी के मुखिया हैं, उनको पूरा अधिकार है कहने का, किस नेता की कहां कमी रही और किस नेता ने कहां निर्णय गलत लिया इस पर कहने का अधिकार कांग्रेस के अध्यक्ष के पास है। हार के बाद पार्टी का पोस्टमार्टम होता ही है जो वो कर रहे हैं।

कांग्रेस में बवाल: बेटे के टिकट पर राहुल की नाराजगी पर बोले सीएम गहलोत,

लोकसभा चुनाव में भाजपा की प्रचंड जीत के बाद विपक्ष के पास सिवाय पार्टी की हार पर चिंतन के अलावा कुछ नहीं है। कांग्रेस पार्टी में मध्यप्रदेश और राजस्थान में सीएम के बेटों को टिकट देने पर पार्टी में ही तकरार मची हुई है। सोमवार को राजस्थान के सीएम ने इस मामले में सफाई दी है।

सीएम अशोक गहलोत ने कहा कि राहुल गांधी जी पार्टी के मुखिया हैं, उनको पूरा अधिकार है कहने को, किस नेता की कहां कमी रही और किस नेता ने कहां निर्णय गलत लिया इसपर कहने का अधिकार कांग्रेस के अध्यक्ष के पास है। हार के बाद पार्टी का पोस्टमार्टम होता ही है जो वो कर रहे हैं।

सीएम अशोक गहलोत ने आगे कहा कि हम लोगों ने हार के कारणों पर चर्चा की, आगे उन्होंने कहा कि जो बातें अखबारों में आती हैं किस संदर्भ में उन्होंने कही है, वे संदर्भ खत्म हो जाते हैं। मीडिया जब सदर्भ से हटकर बात करता है तो उसके मायने बदल जाते हैं जिसपर टिप्पणी नहीं करना चाहता।

उक्त बाते सीएम गहलोत हार की समीक्षा के लिए बुलाई गई बैठक से पहले कही। मीडिया द्वारा पूछे गए एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि ये कोई पहला मौका नहीं है कांग्रेस पार्टी पहले भी हार चुकी है पर पार्टी दोबारा उभरी और सत्ता पर कबिज हुई।

गहलोत ने कहा कि राहुल गांधी में ही दम है जो मोदी और एनडीए का मुकाबला कर सकते हैं। पिछले 5 साल में राहुल ने परिपक्व राजनेता की तरह पार्टी के लिए काम किया। राहुल की तारीफ करते हुए गहलोत ने कहा कि राहुल गांधी ने देश में मुद्दा आधारित राजनीति की है। जनता ने स्वयं माना कि राहुल गांधी दिल से बोलते हैं।

Loading...
Share it
Top