logo
Breaking

अलवर गैंगरेप : जानें आरोपियों का प्रोफाइल

राजस्थान के अलवर में हुई गैंगरेप की घटना ने सबको झकझोर कर रख दिया था। अलवर के थानागाजी में 26 अप्रैल को सामूहिक बलात्कार करके पांच आरोपियों ने पूरे देश में अलवर के साथ-साथ पूरे प्रदेश का नाम बदनाम कर दिया। सभी पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

अलवर गैंगरेप : जानें आरोपियों का प्रोफाइल

राजस्थान के अलवर में हुई गैंगरेप की घटना ने सबको झकझोर कर रख दिया था। अलवर के थानागाजी में 26 अप्रैल को सामूहिक बलात्कार करके पांच आरोपियों ने पूरे देश में अलवर के साथ-साथ पूरे प्रदेश का नाम बदनाम कर दिया। सभी पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

मिली जानकारी के अनुसार पकड़े गए सभी आरोपी ड्राइवरी व छोटे मोटे काम से जुड़े हैं। कोई भी आरोपी किसी दूसरे जिले का नहीं है सबका घर अलवर में ही है। पांच आरोपियों में 2 ड्राइवरी पेशे से जुड़े हैं जो छोटी-मोटी गाड़ियां चलाते हैं।

बाकी तीन आरोपी छोटे-मोटे काम करते हैं। आरोपियों में दो ऐसे हैं जो जीजा-साला हैं। मुख्य आरोपी छोटेलाल पहले अवैध शराब का ठेका चलाता था अब ट्रक का ड्राइवर है। इंद्राज गुर्जर ट्रैक्टर चलाता है। वहीं अशोक चाय की दुकान के जरिए अपनी अजीविका चलाता है। हंसराज गुर्जर आईटीआई कर रहा है।

पांचवा आरोपी महेश है जो अनपढ़ है और वह अन्य आरोपियों के साथ काम धन्धा करता है। मुकेश को गैंगरेप का वीडियो वायरल करने के आरोप में आईटी एक्ट में गिरफ्तार किया गया है। सभी आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार करके पूछताछ कर रही हैं।

इस घटना को लेकर राजस्थान में सियासी घमासान मचा। सरकार पर आरोप लगा कि चुनाव के कारण गहलोत सरकार ने मामले को दबाने की कोशिश की। पुलिस ने मामला दर्ज करने के बजाय पल्ला झाड़ना उचित समझा। पर जब वीडियो वायरल कर दिया गया तो प्रशासन और सरकार पर कार्रवाई को लेकर दबाव बढ़ा।

तमाम समाजिक दलों ने सड़क पर उतरकर विरोध प्रदर्शन किया। भाजपा ने सरकार के खिलाफ इस मामले को लेकर जोरदार घेराबंदी की और सरकार को कार्रवाई करने के लिए बाध्य होना पड़ा। एक हफ्ते तक पुलिस की गिरफ्त से बाहर आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया।

Share it
Top