Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

अजमेर शरीफ दरगाह को मंदिर बताने वाला वीडियो वायरल, पुलिस ने बढ़ाई सुरक्षा

राजस्थान में इन दिनों सांप्रदायिक दंगे भड़काने के मकसद से कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा दिए गए भड़काऊ भाषण का वीडियो वायरल हो रहा है।

अजमेर शरीफ दरगाह को मंदिर बताने वाला वीडियो वायरल, पुलिस ने बढ़ाई सुरक्षा
X

राजस्थान में इन दिनों सांप्रदायिक दंगे भड़काने के मकसद से कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा दिए गए भड़काऊ भाषण का वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो सामने आने के बाद वीडियो में भड़काऊ भाषण देने वाले व्यक्ति को हिरासत में लेने के साथ ही अजमेर की ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह में सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

पुलिस अधीक्षक राजेंद्र सिंह ने बताया कि आरोपी का नाम लखन सिंह है। शिवसेना हिंदुस्तान नाम के एक हिंदूवादी संगठन की ओर से जारी वीडियो में अजमेर दरगाह को हिंदू मंदिर बताया गया है।

इसे भी पढ़ेंः यूपी: यौन शोषण मामले पर मदरसों को लेकर यूपी सरकार का बड़ा फैसला, ये हैं पूरा मामला

इसके साथ ही बाबरी मस्जिद की तर्ज पर उसे भी ढहाने का आह्वान किया गया है। वीडियो वायरल होने के बाद दरगाह मैनेजमेंट के सदस्यों ने अतिरिक्त पुलिस बल तैनात करने का आग्रह किया था।

वीडियों की जांच हो

दरगाह के प्रबंधन से जुड़े समीर चिश्ती ने कहा कि हम कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा दिए गए अपमानजनक बयानों की निंदा करते हैं, जो देश में शांति और सौहार्द को बिगाड़ना चाहते हैं। उन्होंने कहा सोशल मीडिया पर वायरल इस वीडियो की जांच करने की जरूरत है। साथ ही उन्होंने कहा जांच के नतीजों को सार्वजनिक किया जाना चाहिए और दोषियों को सख्त से सख्त सजा दी जानी चाहिए। हम सूफी हैं और हमारा लक्ष्य लोगों के बीच प्रेम, शांति और भाईचारे को बढ़ावा देना है।

हिंदू-मुस्लिम एकता का प्रतीक दरगाह

चिश्ती फाउंडेशन के चेयरमैन सलमान चिश्ती ने भी कहा है कि पिछले 800 वर्षों से हिंदू-मुस्लिम एकता के प्रतीक इस दरगाह को पहली बार विवाद में घसीटने की कोशिश की जा रही है। देवबंद के उलेमा ने भी सरकार से ऐसे संगठनों के खिलाफ कार्रवाई करने और इन संगठनों को प्रतिबंधित करने की मांग की है।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story