Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

राजस्थान: इंजीनियर से लेकर वकील और सीए तक ने दिया चपरासी का इंटरव्यू

राजस्थान सचिवालय के लिए चपरासी के पद पर नियुक्ति के लिए इंटरव्यू लिया जा रहा था। इंटरव्यू देने आए उम्मीदवारों की शैक्षणिक डिग्री देख इंटरव्यू लेने वाले हैरान रह गए।

राजस्थान: इंजीनियर से लेकर वकील और सीए तक ने दिया चपरासी का इंटरव्यू
X

राजस्थान सचिवालय के लिए चपरासी के पद पर नियुक्ति के लिए इंटरव्यू लिया जा रहा था। इंटरव्यू देने आए उम्मीदवारों की शैक्षणिक डिग्री देख इंरव्यू लेने वाले हैरान रह गए। क्योंकि चतुर्थ श्रेणी के 18 पदों पर आवेदन करने वालों में 129 इंजीनियर, 1 चार्टर्ड अकाउंटेंट, 23 वकील व 393 कला संकाय के में पोस्ट ग्रेजुएट लोग शामिल थे।

यह भी पढ़ें- ऑनर किलिंग: शादी से पहले मंगेतर से बात करना पड़ा मंहगा, गोली मारकर हत्या

राजस्थान सचिवालय में चपरासी भर्ती के लिए कुल 12 हजार 453 लोगों ने इंटरव्यू दिया। जिसमें आखिरी 18 लोगों में जिस शख्स ने जगह बनाई उसमें एक 30 वर्षीय युवक रामकृष्ण मीणा शामिल है, जो 10वीं तक पढ़ा है और बीजेपी विधायक का बेटा है।

रामकृष्ण मीणा के चयन से राजनीति तेज हो गई है। सचिवालय की वेबसाइट में 15 दिसंबर जारी रिजल्ट में रामकृष्ण मीणा का स्थान 12वां है।

इस मामले पर विपक्ष ने इन नियुक्तियों में गड़बड़ी की आशंका जताई है। वहीं राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने इस नियुक्ति पर सवा उठाते हुए मामले में उच्च स्तरीय जांच की मांग की है।

वहीं जमवा रामगढ़ के विधायक जगदीश नारायण मीणा ने बेटे का चपरासी पद के लिए चयन होने पर इसमें किसी भी तरह की गड़बड़ी से इंकार करते हुए कहा है कि भर्तियों में ‘अनियमितताओं’ का सवाल ही नहीं है।

यह भी पढ़ें- डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान को दिया एक और मौका, पैसे देने के लिए रखी ये शर्तें

विधायक का कहना है कि मेरे बेटे ने सामान्य प्रक्रिया के तहत इस नौकरी के लिए आवेदन किया था और इंटरव्यू के बाद उसका सेलेक्शन हुआ है। विपक्ष कह रहा है कि मैंने अपने बेटे को नौकरानी दिलवाने के लिए पावर का इस्तेमाल किया है, अगर ऐसा होता तो मैं अपने बेटे को चपरासी की नौकरी क्यों दिलाता।

गौरतलब है कि इस नौकरी के लिए न्यूनतम योग्यता मात्र 5वीं क्लास पास थी। लेकिन इस भर्ती में जिन लोगों का इंटरव्यू हुआ उनमें 3600 लोग काफी पढ़े लिखे थे। इन उम्मीदवारों में 1533 आर्ट्स ग्रेजुएट, 23 साइंस में पीजी व 9 लोगों के पास एमबीए की डिग्री थी।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story