Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पंजाब सरकार ने ''हुक्का बार'' पर लगाया बैन, बार के मालिकों में खलबली

सोमवार को पंजाब सरकार ने लोगों के स्वास्थ्य को मध्यनजर रखते हुए एक महत्वपूर्ण फैसला लिया है, जिसके चलते पूरे राज्य में जितने हुक्काबार है उन पर प्रतिबंध लगा दिया है।

पंजाब सरकार ने

सोमवार को पंजाब सरकार ने लोगों के स्वास्थ्य को मध्यनजर रखते हुए एक महत्वपूर्ण फैसला लिया है, जिसके चलते पूरे राज्य में जितने हुक्काबार है उन पर प्रतिबंध लगा दिया है। इन बार पर स्थायी रूप से प्रतिबंध लगया गया है। इससे पहले भी पंजाब सरकार ने इन बार पर अस्थायी रूप से प्रतिबंध लगाया था।

धुम्रपान से संबंधित बिमारियों से लड़ने के लिए पंजाब सरकार ने यह फैसला लिया है। पंजाब सरकार ने उन बार पर प्रतिबंध लगाया है जो हुक्का भी देते है। इस तरीके के आदेश पहले हर दो महीने में जारी किए जाते थे।

ये भी पढ़े: पाकिस्तान सीजफायर के उल्लंघन पर महबूबा मुफ्ती ने तोड़ी चुप्पी, कहा- जम्मू-कश्मीर की जनता चुका रही है कीमत

पहले इस तरह के आदेश लागू करने से कोई फायदा नहीं होता था, मगर अब इस स्थायी प्रतिबंध के जरिए इस रोक लगाना आसान हो जाएगा। पंजाब कैबिनेट ने तम्बाकू उत्पादों के उपयोग से होने वाली बीमारियों को रोकने और नियंत्रित करने के लिए सिगरेट और अन्य तम्बाकू उत्पाद (व्यापार और वाणिज्य, उत्पादन, आपूर्ति और वितरण के विनियमन और निषेध) अधिनियम, 2003 के तहत इन पर रोक लगा दी है।

बता दें कि भारत और अन्य देशों में की गई मेडिकल जांच से पता चला है कि हुक्का पीना सेहत के लिए काफी हानिकारक है और इससे इस मिथ का भी पर्दाफाश हुआ है कि हुक्का पीने से स्वास्थय को कोई नुकसान नहीं होता है।

ये भी पढ़े: श्रीदेवी को राजकीय सम्मान देने पर राज ठाकरे ने दिया विवादित बयान, कहा- 'शराब पीकर मरी'

इसके अलावा हुक्के को शीशा के रूप में जाना जाता है, हुक्के में पानी का पाइप होता है जिसकी मदद से फ्लेवर्ड तम्बाकू का धूम्रपान किया जाता है। समाजिक कार्यकर्ता और चिकित्सा विशेषज्ञ का मानना है कि हुक्के को सबसे खतरनाक बनाता है उसका स्टाइलिश डिजाईन और बहुत ही कम लोग जानते है कि इसका इंसानी शरीर पर कितना बुरा असर पड़ता है।

Share it
Top