Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पंजाब: बेअदबी पर कार्रवाई नहीं होने से नाराज आप MLA ने विधानसभा से दिया इस्तीफा

पंजाब से आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक एचएस फुल्‍का ने बेदअबी की घटनाओं में पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और पूर्व डीजीपी सुमेध सिंह सैनी के खिलाफ कार्रवाई शुरू करने में राज्य सरकार की कथित नाकामी पर नाराजगी जताते हुए इस्तीफा दिया है।

पंजाब: बेअदबी पर कार्रवाई नहीं होने से नाराज आप MLA ने विधानसभा से दिया इस्तीफा

पंजाब से आम आदमी पार्टी (आप) के विधायक एचएस फुल्‍का ने शुक्रवार को पंजाब विधानसभा की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया।

फुल्का ने बेदअबी की घटनाओं में पूर्व मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल और सेवानिवृत्त डीजीपी सुमेध सिंह सैनी के खिलाफ कार्रवाई शुरू करने में राज्य सरकार की कथित नाकामी पर नाराजगी जताते हुए इस्तीफा दिया है।

फुल्का ने कहा कि मैंने पंजाब विधानसभा के विधायक के पद से अपना इस्तीफा विधानसभाध्यक्ष को ई-मेल से भेज दिया है। विधानसभा अधिकारियों ने बताया कि विधानसभा अध्यक्ष राणा के पी सिंह ने अभी इस्तीफे पर कोई फैसला नहीं किया है।

इसे भी पढ़ें- विधानसभा चुनाव 2018: प्रथम चरण के प्रचार के लिए छत्तीसगढ़ आएंगे CM केजरीवाल

फुल्का नई दिल्ली में चुनाव आयोग कार्यालय गए। वहां उन्होंने संवाददाताओं से कहा कि कांग्रेस सरकार के मंत्रियों ने विधानसभा में वादा किया था कि प्रकाश सिंह बादल और तत्कालीन पुलिस महानिदेशक सुमेध सिंह सैनी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

इसके 45 दिन बीत जाने के बाद भी अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई है।फुल्का ने कहा कि यह पंजाब के लोगों के साथ छल है।

अगर फुल्का का इस्तीफा स्वीकार कर लिया जाता है तो विधानसभा में आप विधायकों की संख्या 19 रह जाएगी। इनमें से आठ ने सुखपाल सिंह खैरा की अगुवाई में एक विद्रोही गुट बना लिया है।

इसे भी पढ़ें- मुगल खानदान के 'चश्म-ओ-चिराग' ने BJP को याद दिलाया राम मंदिर निर्माण का वादा

फुल्का 1984 के सिख विरोधी दंगों के मामले नई दिल्ली में अदालतों में लड़ रहे हैं। वह बेअदबी की घटनाओं के विरोध में प्रदर्शन कर रहे लोगों पर कोटकपुरा और बहबल कलां में पुलिस गोलीबारी को लेकर बादल तथा सैनी के खिलाफ कार्रवाई शुरू करने की राज्य सरकार से मांग करते रहे हैं।

इसके पहले उन्होंने तीन बार कहा था कि अगर न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) रणजीत सिंह आयोग के निष्कर्षों पर कार्रवाई नहीं की जाती तो वह इस्तीफा दे देंगे।

Share it
Top