Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

लुधियाना नगर निगम चुनाव: कांग्रेस ने मारी बाजी, 10 सीट पर सिमटी भाजपा- AAP का सूपड़ा साफ

लुधियाना नगर निगम के सभी 95 वार्डों के चुनाव परिणाम घोषित कर दिए गए हैं। चुनाव में कांग्रेस ने पूर्ण बहुमत के साथ 62 सीटों पर विजय हासिल कर जीत का डंका बजा दिया है।

लुधियाना नगर निगम चुनाव: कांग्रेस ने मारी बाजी, 10 सीट पर सिमटी भाजपा- AAP का सूपड़ा साफ

लुधियाना नगर निगम के सभी 95 वार्डों के चुनाव परिणाम घोषित कर दिए गए हैं। चुनाव में कांग्रेस ने पूर्ण बहुमत के साथ 62 सीटों पर विजय हासिल कर जीत का डंका बजा दिया है।

नतीजे के परिणामों की बात करें तो कांग्रेस 62, भाजपा को 10, शिरोमणि अकाली दल को 11, लोक इंसाफ पार्टी को 7, निर्दलीय उम्मीदारों को 4 और आम आदमी पार्टी को 1 वार्ड पर जीत हासिल हुई है।

ये भी पढ़े: Sridevi Death: श्रीदेवी मर्डर केस में दुबई पुलिस ने बॉनी कपूर से पूछे थे ये 7 सवाल

चुनाव के नतीजों में बीजेपी-अकाली दल को सिर्फ 21 सीटें मिली हैं। आम आदमी पार्टी के लिए इन दिनों कुछ भी ठीक नहीं चल रहा है। एक तरफ तो जहां दिल्ली में पार्टी की सत्ता है, वहां पार्टी के विधायक मुख्य सचिव के साथ मारपीट के आरोप में गिरफ्तार हो रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ चुनावों में भी आम आदमी पार्टी की किस्मत खराब चल रही है।

मंगलवार को लुधियाना नगर निगम की 95 सीटों के नतीजे आम आदमी पार्टी के लिए काफी निराशा भरे रहे हैं। यहां पर आम आदमी पार्टी के 39 उम्मीदवारों में से सिर्फ 1 ही उम्मीदवार को जीत नसीब हो पाई है। 95 सीटों पर 24 फरवरी को मतदान हुआ था और आम आदमी पार्टी ने एलआईपी के साथ मिलकर 39 सीटों पर अपने कैंडिडेट उतारे थे। इसमें से 56 सीटों पर एलआईपी के उम्मीदवार चुनाव लड़े थे।
कांग्रेस ने बीजेपी-अकाली दल को पछाड़ा वहीं कांग्रेस पार्टी ने एक बार फिर से यहां चुनावों में शानदार प्रदर्शन किया है। कांग्रेस पार्टी ने 95 वॉर्ड में से 62 वॉर्ड पर जीत दर्ज की है तो वहीं बीजेपी-अकाली दल गठबंधन की 21 वॉर्ड पर जीत हुई है। इनमें से 10 वॉर्ड पर बीजेपी के उम्मीदवार तो वहीं 11 वॉर्ड पर अकाली दल के उम्मीदवार जीते हैं।
चुनाव नतीजों के हिसाब से सबसे फिसड्डी आम आदमी पार्टी रही है। बता दें कि एलआईपी और आप ने मिलकर नगर निगम चुनाव लड़ा था। इस चुनाव में चार निर्दलीय प्रत्याशियों ने भी जीत हासिल की।
गौरतलब है कि लुधियाना नगर निगम के 95 वार्ड्स पर 24 फरवरी को वोटिंग हुई थी। इस चुनाव में 494 उम्मीदवारों ने अपनी किस्मत आजमाई थी। अकाली दल और बीजेपी ने मिलकर यह चुनाव लड़ा था, वहीं एलआईपी और आप ने मिलकर 56-39 प्रत्याशी उतारे थे।
वार्ड नंबर 44 के पोलिंग बूथ 2 और 3 में बोगस वोटिंग के कारण सोमवार को दोबारा चुनाव हुए थे। चुनाव आयोग के आंकड़ों के मुताबिक, 24 फरवरी को करीब 60 फीसदी वोटरों ने मतदान किया था।
Share it
Top