Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जलियांवाला बाग हत्याकांड के 100 साल, सीएम अमरिंदर सिंह ने कैंडल मार्च में हिस्सा लिया

पंजाब में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और राज्यपाल वीपी सिंह बदनोर ने जलियांवाला बाग में कैंडल लाइट मार्च में हिस्सा लिया। इस मोके पर कई अन्य नेता भी मौजूद रहे।

जलियांवाला बाग हत्याकांड के 100 साल, सीएम अमरिंदर सिंह ने कैंडल मार्च में हिस्सा लिया
X

पंजाब में मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और राज्यपाल वीपी सिंह बदनोर ने जलियांवाला बाग में कैंडल लाइट मार्च में हिस्सा लिया। इस मोके पर कई अन्य नेता भी मौजूद रहे। 13 अप्रैल यानी कल को जलियांवाला बाग नरसंहार के 100 साल पूरे हो जाएंगे। इस मौके पर जलियांवाला बाग में कैंडल लाइट मार्च का आयोजिन किया गया और शहीदों को श्रद्धांजलि दी गई।

गौरतलब है कि साल 1919 में बैसाखी 13 अप्रैल को थी। इसी दिन अमृतसर के नजदीक जलियांवाला बाग में अंग्रेजों द्वारा एक भीषण नरसंहार को अंजाम दिया गया, जिसमें हजारों लोगों की जान चली गई थी।

बैसाखी के दिन पंजाब के अलावा देश के अलग- अलग हिस्सों से लोग यहां पहुंचे थे। एक दिन पहले ही अंग्रेजी हुकुमत ने कर्फ्यू लगा दिया और ऐलान किया गया था कि लोग कहीं पर भी एक साथ इकट्ठा न हो।

बैसाखी की सुबह यानी 13 अप्रैल को लोग स्वर्ण मंदिर में दर्शन करने के बाद जलियांवाला बाग में जुटने लगे। लगभग हजारों लोगों की भीड़ वहां पर जुट गई। जैसे ही इसकी भनक ब्रिगेडियर जनरल डायर लगी कि जलियांवाला बाग में लोगों की भीड़ जुटी है और मीटिंग हो रही है।

गुस्से में तमतमाया उसने पुलिस बल के साथ जलियांवाला बाग को चारो ओर से घेर लिया और बिना कोई चेतावनी दिए गोली चलाने का आदेश दे दिया। आदेश के बाद हजारों लाशें बिछ गईं। ऐसा भी बताया गया है कि जान बचाने के लिए लोगों और औरतों ने कुंआ में कूदे थे और उनकी जान चली गई थी।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story