Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Coronavirus: रेजिडेंट्स डॉक्टर्स एसोसिएशन ने लगाई गुहार, डॉक्टरों की सुरक्षा पर दें ध्यान वरना हो जाएगी देर

Coronavirus: रेजिडेंट्स डॉक्टर्स एसोसिएशन ने गुहार लगाई है कि डॉक्टरों के पास अपनी सुरक्षा के लिए कोई साधन मौजूद नहीं है। इससे डॉक्टर मरीजों का इलाज करने में सक्षम नहीं हो पाएंगे।

Coronavirus: 15 अगस्त तक कोरोना का टीका लाने का था प्लान, फिर पीछे क्यों हटी मोदी सरकार
X
Coronavirus: 15 अगस्त तक कोरोना का टीका लाने का था प्लान, फिर पीछे क्यों हटी मोदी सरकार

Coronavirus: पंजाब के रेजिडेंट्स डॉक्टर्स एसोसिएशन ने कहा है कि डॉक्टर्स ऐसे खतरनाक वायरस के खिलाफ लड़ रहे हैं, जिसकी कोई सीमा नहीं है। लेकिन बाकी दूसरे मेडिकल संस्थानों की तरह इस संस्थान के पास भी सुरक्षा के कोई साधन मौजूद नहीं है। डॉक्टर्स बिना किसी सुरक्षा के मरीजों का इलाज कर रहे हैं।

पटना जैसी होगी स्थिति

संघ ने कहा कि हमने सुरक्षा के साधनों की मांग कई बार प्रशासन से की। लेकिन वो इस बात पर ध्यान नहीं दे रहे हैं। हमारे दो रेजिडेंट्स इस समय आइसोलेशन वार्ड में भर्ती हैं। वो भी कोरोना वायरस से संक्रमित हो गए हैं। लेकिन प्रशासन इस बात पर ध्यान नहीं दे रही है।

संघ ने कहा कि यही कारण है कि पटना के कई डॉक्टर मरीजों का इलाज करते-करते खुद संक्रमित हो गए। जिसके कारण उन्हें क्वारेंटाइन में रखने की जरूरत पड़ गई। अगर यही हाल रहा तो हमारे डॉक्टर भी मरीजों की देखभाल करने में समर्थ नहीं हो पाएंगे।

सुरक्षा के कोई साधन नहीं हैं मौजूद

संघ ने कहा कि प्रशासन इस बात पर बिल्कुल ध्यान नहीं दे रही कि हमारे डॉक्टर्स बिना किसी सुरक्षा के मरीजों का इलाज कर रहे हैं। यह वायरस कोई सीमा नहीं जानता। लेकिन हमारे पास इससे बचने के लिए न मास्क है, न ग्लब्स हैं और न सैनिटाइजर।

संघ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और WHO ने स्वास्थ्य कर्मियों की सुरक्षा को प्रोत्साहित करने की बात कही है जिससे इस वायरस के खिलाफ लड़ाई लड़ी जा सके और इसके प्रभाव को कम किया जा सके। लेकिन इन बातों को संस्थान ने अनसुना कर दिया है।

जल्दी करें कुछ, वरना हो जाएगी देर

इसके साथ ही, संघ ने प्रार्थना करते हुए कहा है कि जल्दी से हमारी बात सुनी जाए और सुरक्षा के साधनों को उपलब्ध कराया जाए। वरना तब तक कहीं देर न हो जाए।




Next Story