Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

परिवार संग पंजाब पहुंचे कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो, सिद्धू ने किया स्वागत

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो स्वर्ण मंदिर में मत्था टेकने के लिए आज अमृतसर अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर पहुंचे।

परिवार संग पंजाब पहुंचे कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो, सिद्धू ने किया स्वागत

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो स्वर्ण मंदिर में मत्था टेकने के लिए आज अमृतसर अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर पहुंचे। आवास एवं शहरी मामलों के केंद्रीय राज्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी और पंजाब के संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने श्री गुरू रामदास अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे पर सुबह करीब दस बजकर 40 मिनट पर जस्टिन ट्रूडो और कनाडा के मंत्रियों के एक प्रतिनिधिमंडल की अगवानी की।

अधिकारियों ने कहा कि अगवानी दल में अमृतसर के पुलिस आयुक्त एस एस श्रीवास्तव और उपायुक्त कमलदीप सिंह संगा शामिल थे। पंजाब पुलिस में 1,500 से ज्यादा पुलिसकर्मियों को तैनात कर शहर में कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की है। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों और पुलिस उप महानिरीक्षकों सहित वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों एवं स्वैट (विशेष हथियार एवं रणनीति) टीम भी तैनात किए गए हैं।

यह भी पढ़ें- इमरान खान की नई बेगम को लेकर सोशल मीडिया पर उड़ा मजाक

जस्टिन ट्रूडो सिखों के पवित्र स्थल स्वर्ण मंदिर में मत्था टेकेंगे और वहां करीब एक घंटे तक रहेंगे। वह पार्टिशन म्यूजियम का भी दौरा करेंगे। कनाडा के प्रधानमंत्री एक हफ्ते के भारत दौरे पर आए हैं। उनके साथ उनका परिवार भी आया है। स्वर्ण मंदिर की यात्रा के बाद जस्टिन ट्रूडो पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से एक स्थानीय होटल में मिलेंगे।

दोनों के बीच व्यापार एवं लोगों के बीच संपर्क पर चर्चा करने की उम्मीद है। शिरोमणि अकाली दल के प्रमुख सुखबीर सिंह बादल, उनकी पत्नी एवं केंद्रीय मंत्री हरसिमरत कौर बादल और शिरोमणि गुरूद्वारा प्रबंधक कमिटी (एसजीपीसी) के अध्यक्ष गोविंद सिंह लोंगोवाल स्वर्ण मंदिर में जस्टिन ट्रूडो का स्वागत करेंगे। सिखों के सर्वोच्च धार्मिक संगठन एसजीपीसी ने जस्टिन ट्रूडो के सम्मान में एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया है।

यह भी पढ़ें- अयोध्या विवाद पर सीएम योगी ने कहा, बातचीत से नहीं बनेगी बात

सूचना केंद्र में होने वाले इस कार्यक्रम में कनाडा के प्रधानमंत्री को सरोपा, स्वर्ण मंदिर की एक प्रतिकृति, शॉल, कृपाण और धार्मिक किताबें भेंट की जाएंगी। पंजाब सरकार ने राज्य प्रशासन से प्रतिनिधिमंडल का शानदार स्वागत करने को कहा है।

Share it
Top