Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

Amitabh Bachchan Birthday: अमिताभ बच्चन के 10 सुपरहिट डायलॉग्स, रिश्ते में तो हम तुम्हारे बाप लगते हैं

सदी के महानायक अमिताभ बच्चन 11 अक्टूबर 1942 को 77 साल के हो जाएगें। अमिताभ बच्चन ने अपनी बॉलीवुड करियर में एक से बढ़कर एक सुपरहिट फिल्में दी। फिल्मों में उनके दमदार डायलॉग ने उनकी अलग ही पहचान बना दी। अमिताभ के ये 10 डायलॉग्स आज भी लोगों को याद हैं...

Amitabh Bachchan Special: Amitabh Bachchan Famous Superhit Dialogues Form His Movie
X
Amitabh Bachchan Special: Amitabh Bachchan Famous Superhit Dialogues Form His Movie

अमिताभ बच्चन का 11 अक्टूबर को 77वां जन्मदिन है। अमिताभ को बॉलीवुड का शहंशाह कहा जाता है। उनकी एक्टिंग और डायलॉग्स बोलने के अंदाज लोगों को काफी पसंद है। तो चलिए जानते है उनके जन्मदिन के मौके पर टॉप 10 डायलॉग्स.. जो आज भी लोगों के जुबां पर चढ़े हुए है।



फिल्म 'शहंशाह' का डायलॉग- 'रिश्ते में तो हम तुम्हारे बाप लगते हैं, नाम है शहंशाह'



फिल्म 'लावारिस' का डायलॉग- 'अगर अपनी मां का दूध पीया है तो सामने आ'



फिल्म 'डॉन' का डायलॉग- 'डॉन को पकड़ना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन है'



फिल्म 'दीवार' का डायलॉग- 'मैं आज भी फेंके हुए पैसे नहीं उठाता'



फिल्म 'दीवार' का डायलॉग- 'आज मेरे पास बंगला है, गाड़ी है, बैंक बैलेंस है, क्या है तुम्हारे पास'



फिल्म 'कालिया' का डायलॉग- 'हम जहां खड़े हो जाते हैं, लाइन वहीं से शुरू होती है'



फिल्म 'जंजीर' का डायलॉग- 'ये तुम्हारे बाप का घर नहीं, पुलिस स्टेशन है, इसीलिए सीधी तरह खड़े रहो'



फिल्म 'नमक हराम' का डायलॉग- 'है किसी माई के लाल में हिम्मत जो हमारे सामने आए'




फिल्म 'आनंद' का डायलॉग- 'आनंद मरा नहीं, आनंद मरते नहीं'




फिल्म 'सिलसिला' का डायलॉग- 'मैं और मेरी तन्हाई अक्सर ये बातें करते हैं'

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story