Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आलोक पुराणिक का व्यंग्य : मोबाइल और स्टेटस

मोबाइल अब ऐसी डिवाइस हो गया है, जिस पर बड़े बड़ों के स्टेटस टंगे हुए हैं।

आलोक पुराणिक का व्यंग्य : मोबाइल और स्टेटस
इन दिनों तमाम इश्तिहारों को देखो, तो सवाल खड़ा होता है कि पब्लिक आखिर इतने मोबाइलों का करती क्या है। हर अखबार में मोबाइल के दे दनादन इश्तिहार। मतलब पब्लिक मोबाइलों के अलावा कुछ खरीद भी रही है या नहीं। साठ हजार का मोबाइल, सत्तर हजार का मोबाइल अब एक लाख रुपये का मोबाइल। और मोबाइल में महंगाई की शिकायत कोई नहीं करता। एक जानकार बता रहे थे कि मोबाइल महंगा हो, तो स्टेटस के लिए और अच्छा होता है। बल्कि कई लोग तो चालीस हजार के मोबाइल को साठ हजार का बता देते हैं।

कंपनी महंगा ना बेचे, तो बंदा खुद ही महंगा करके बता देता है। मोबाइल अब ऐसी डिवाइस हो गया है, जिस पर बड़े बड़ों के स्टेटस टंगे हुए हैं। स्टेटस में भी घपला है। पहले छोटे मोबाइल को स्टेटस-सिंबल माना जाता था। अब बड़े मोबाइल में स्टेटस निहित माना जाता है। बड़े मोबाइल को नोट कहा जाता है। वाइफ ने बताया-नया नोट आया है, तुम ले लेना। मैंने निवेदन किया-नोट कौन सा नया है, सारे तो पुराने हैं। गांधीजी ही चल रहे हैं नोटों पर, जिनकी शिक्षाएं मानकर काम तो ना चल पा रहा है, पर नोट तो गांधीजी के पुराने ही चल रहे हैं। वाइफ ने डपटा-तुम भुक्खड़ टाइप के आदमी, नोट के नाम पर सिर्फ नोट ही दिखते हैं। अरे नया नोट उर्फ सैमसंग का मोबाइल फोन नोट आया है। 5.7 इंच की स्क्रीन है, झक्कास, लेते ही स्टेटस किसी बाबा के लुच्चत्व की तरह हाई हो जाएगा।
इसे भी पढें- जानिये ऐसे 5 साहित्यकारों के नाम जिन्होंने लौटा दिये बड़े-बड़े पुरस्कार

मैंने निवेदन किया-हाय कित्ती बात करे कोई। घर के लैंडलाइन से बात, फिर टैबलेट से, मोबाइल से, फिर लैपटॉप-डेस्कटॉप पर फेसबुक के जरिए, अब नोट से बात करो, कित्ती बात करें। वाइफ ने फिर डपटा-तुम पिछड़े आदमी, नोट वगैरह का इस्तेमाल बातचीत के लिए करते हो। स्टेटसवान लोग इसका प्रयोग दूसरों को दिखाने के लिए करते हैं। इसमें एचडी सुपर अमोल्ड डिस्प्ले, बैटरी 3200 एमए एच की है।

इसे भी पढें- दादरी हत्याकांड के विरोध में अशोक वाजपेयी और नयनतारा ने लौटाया साहित्‍य अकादमी

मैंने पूछा-ये अमोल्ड क्या होता है, क्या नोट अमोल पालेकर की तरह विनम्र दिखता है, तो क्या डिस्प्ले जॉनी लीवर्ड यानी फनी भी होता है, ग्रेट कॉलोबोरेशन बिटवीन मोबाइल एंड फिल्म इंडस्ट्री और बैटरी 3200 एमए एच का क्या मतलब है। वाइफ ने फिर डपटा-यू बैकवर्ड, अमोल्ड, एमए एच का मतलब पूछते हो, समझदार लोग सिर्फ बताते हैं, पूछते नहीं किसी से। जैसे हमारे नेता सिर्फ बताते हैं कि महंगाई ग्लोबल है, बस करप्शन लोकल है। किसी से पूछते थोड़े ही हैं। इस नोट में एक्शनमेमो है, इसमें तुम लिख सकते हो कि किसी को कॉल करना है, तीन बजे, तो यह नोट खुद ही कॉल कर देगा तीन बजे।

मैंने पूछा-उफ्फ, अपने आप ही कर देगा कॉल, मानो मैं किसी को सिर्फ दिखाने भर को लिए नोट करूं कि तीन बजे कॉल करूंगा, और मुझे करना ना हो, तो ये फोन अपने आप कॉल कर देगा। मेरे फर्जीवाड़े में मेरा नोट मदद ना करे, तो बेकार है। मोबाइल-नोट में फर्जीवाड़े का जुगाड़ हो, तो ही इसे हाई-टेक माना जा सकता है। वाइफ ने मुझे मोबाइल-पिछड़ा घोषित कर दिया है।लालूजी एक मसले पर बोले कि उनमें शैतान घुस गया था। काश कभी ऐसा भी हो कि नेता दान करना शुरू कर दे, अपनी प्रॉपर्टी, मकान-दुकान वगैरह बांटने लग जाए। और बाद में बताए कि उसके अंदर देवता घुस गया। नेताओं में आम तौर पर शैतान ही घुसता है, देवता घुसते कम देखे गए हैं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top