Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

व्‍यंंग्‍य: ऐसा बहुत कुछ रह गया है, जो अमिताभ जी नहीं बेचते

तेंदुलकर को भी शाम को बैटिंग का रिकॉर्ड रखने के साथ-साथ यह रिकॉर्ड रखना पड़ता था कि आखिर कितने क्रेट कोल्ड ड्रिंक बेची है।

व्‍यंंग्‍य:  ऐसा बहुत कुछ रह गया है, जो अमिताभ जी नहीं बेचते
X

अंकल, अमिताभ बच्चन कितनी कोल्ड ड्रिंक पीते हैं, कितनी चॉकलेट खाते हैं। टीवी पर जाने कितनी बार वह कोल्ड ड्रिंक पीते हुए नजर आते हैं, चॉकलेट खाते हुए नजर आते हैं-एक बच्चा कह रहा है। नहीं बेटा, ऐसी बात नहीं है, तुम ज्यादा कोल्ड ड्रिंक मत पीना, ज्यादा चाकलेट मत खाना, प्रॉबलम हो जाती है-मैं बच्चे को समझाने की कोशिश कर रहा हूं। क्यों अमिताभ अंकल को प्रॉबलम नहीं होती, तो मुझे क्यों हो जायेगी-बच्चा पूछ रहा है। बेटा बात दरअसल यह है कि अमिताभजी को प्रॉबलम है, तब ही तो वे ये सब खाते-पीते हैं-मैं समझाने की कोशिश कर रहा हूं।

वार्षिक साहित्य समीक्षा: आलोचनाओं ने तैयार की साहित्‍य के सामाजिक सरोकार की नई जमीन

क्या वह प्रॉबलम की वजह से खाते-पीते हैं। यह क्या मामला है, एक तरफ आप कह रहे हैं कि चॉकलेट-कोल्ड ड्रिंक से प्रॉबलम हो जाती है, दूसरी तरफ आप कह रहे हैं कि अमिताभजी ये सब इसलिए खाते-पीते हैं, क्योंकि उनको प्रॉबलम है-बच्चा पूछ रहा है। देखो, अमिताभजी पहले सिर्फ एक्टिंग करते थे, तो बहुत दिक्कत हो गयी थी। उनकी कंपनी दिवालिया तक हो गयी थी। इसलिए अमिताभजी खाने-पीने के कारोबार में भी हाथ फैला लिये हैं। इसमें घाटा नहीं होता-मैं बच्चे को समझाने की कोशिश कर रहा हूं पर अमिताभ अंकल तो सिर में लगाने वाला वो वाला तेल भी बेचते हैं, वो वाली ब्यूटी क्रीम भी बेचते हैं। सब कुछ तो बेचते हैं अमिताभ अंकल-बच्चा कह रहा है।
नहीं तुम्हें पता नहीं है। सब कुछ नहीं बेचते अमिताभ अंकल, बेटे वो अभी छोले-भटूरे कहां बेचते हैं, नान-खटाई कहां बेचते हैं, जलेबी-कचौड़ी कहां बेचते हैं। फलों की चाट कहां बेचते हैं। तरबूज कहां बेचते हैं। ठीक है कि लोगों को गुजरात घूमने के लिए प्रेरित करते हैं पर अब भी ऐसा बहुत कुछ रह गया है, जो अमिताभजी नहीं बेचते-मैं बच्चे को समझाने की कोशिश कर रहा हूं। तो इसका मतलब वे भविष्य में ये सब भी बेच सकते हैं पर अंकल अमिताभजी को तो लोग बड़े एक्टर के रूप में जानते हैं ना-बच्चा पूछ रहा है। बेटा इधर मामला यह हो गया है कि हर फील्ड के बड़े मैन को पहले बतौर सेल्समैन जाना जाता है। जैसे सचिन तेंदुलकर को भी शाम को बैटिंग का रिकॉर्ड रखने के साथ-साथ यह रिकॉर्ड रखना पड़ता था कि आखिर कितने क्रेट कोल्ड ड्रिंक बेची है।
बेटा मुल्क का हर बड़ा आदमी कुछ न कुछ बेच रहा है, जो कुछ नहीं बेच रहा है, तो उसका मतलब है कि वह बड़ा आदमी नहीं है। धोनी ने अभी टेस्ट मैच से संन्यास लिया, तो फौरन एक्सपर्ट लोग यह विश्लेषण करने में जुट गये कि अब कित्ते आइटमों की सेल्समैनगिरी बचेगी, कितनी कंपनियां धोनी को मॉडलिंग, सेल्समैनी से बरखास्त कर देंगी। धोनी के खेल रिकॉडरें की चिंता कम है, उनके सेल्समैनी के रिकॉडरें की चिंता ज्यादा बड़ी हो गयी है, कम से कम धोनी के लिए। बड़ी कमाई सेल्समैनी से ही आती है। बेटा हर बड़ा आदमी सेल्समैन भी होता है, अब। तू बात समझने की कोशिश कर ना-मैं बच्चे को समझाने की कोशिश कर रहा हूं।
तो अंकल अगर एक्टिंग वाले, क्रिकेट वाले कोल्ड ड्रिंक बेच सकते हैं, तो इसका मतलब यह हुआ कि कोल्ड ड्रिंक वाले भी एक्टर बन सकते हैं, क्रिकेट खेल सकते हैं-बच्चा पूछ रहा है। नहीं बेटे, इस मुल्क में कोल्ड ड्रिंक कारोबार वाले पूरी निष्ठा, पूरा सर्मपण सिर्फ कोल्ड ड्रिंक में ही लगाते हैं। इधर-उधर ध्यान नहीं लगाते-मैं बता रहा हूं। तो फिर निष्ठा और सर्मपण की शिक्षा हमें क्रिकेटरों और एक्टरों की बजाय क्या कोल्ड ड्रिंक के कारोबारियों से लेनी चाहिए-बच्चा पूछ रहा है। अब आप बताइए, मैं क्या जवाब दूं।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें
ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top