Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

टीवी पर नागिन से लेकर चुड़ैलों तक की कहानी हल्लाबोल, करवा चौथ गायब

परम पतिव्रता नारी करवा पर एक टीवी चैनल के दफ्तर में जाकर कहने लगी, तरह-तरह की कहानियां टीवी पर आती हैं। नागिन से लेकर चुड़ैलों तक पर सीरियल बन रहे हैं, करवा चौथ को लेकर सीरियल क्यों ना बनते।

टीवी पर नागिन से लेकर चुड़ैलों तक की कहानी हल्लाबोल, करवा चौथ गायब

परम पतिव्रता नारी करवा पर एक टीवी चैनल के दफ्तर में जाकर कहने लगी, तरह-तरह की कहानियां टीवी पर आती हैं। नागिन से लेकर चुड़ैलों तक पर सीरियल बन रहे हैं, करवा चौथ को लेकर सीरियल क्यों ना बनते। इस पर टीवी चैनल के चीफ ने कहा, करवा की शुरुआत क से होती है। क नाम से शुरु होने वाले सीरियल बनाने का अधिकार एकता कपूर का है। इस संबंध में एकता कपूर से पूछा जाना बेहतर होगा कि करवा चौथ को लेकर वह सीरियल क्यों ना बनातीं। पतिव्रता स्त्री एकता कपूर के दफ्तर गई और वही प्रश्न रखा-पातिव्रत्य की महानता का बखान करने वाले करवाचौथ व्रत की कहानी पर सीरियल क्यों नहीं बनाए जाते। एकता कपूर के दफ्तर के एक निर्देशक ने कहा, बहन तू हमें बेरोजगार क्यों कराने पर तुली हुई है। पातिव्रत्य के सीरियल क्यों बनाएं हम और कौन देख रहा है उन्हें। जब तक एक सीरियल में प्रति लेडी चार अफेयर और प्रति पुरुष दस अफेयर न दिखाने सीरियल फ्लाप हो रहे हैं। आप कह रही हो कि हम पातिव्रत्य मचा दें सीरियलों में। हे बहन, तू हमें भाई मान और हमारे रोजगार की रक्षा कर और हमसे ऐसा तो आग्रह कर ही मत कि एक पति और पत्नी पर फोकस रहने वाले सीरियल दिखाएं। पतिव्रता स्त्री बहुत कुपित हुई और कुपित से ज्यादा आश्चर्यचकित हुई यह जानकर कि टीवी देखने वाले ऐसे सीरियल ही देख रहे थे जिनमें इधर का गुंताड़ा उधर भिड़ा हुआ था और उधर का टांका इधर भिड़ा हुआ था। सीधे सच्चे परिवारों के सीरियल देखने में किसी की भी रुचि ना थी। परम पतिव्रता नारी ने तमाम टीवी चैनल देखे यह जानने के लिए कि करवा चौथ की पूजा करने का विधान क्या है। उसने देखा कि एंकर उस ब्रांड की साड़ी पहने बैठी हुई है, क्योंकि शो को उस साड़ी वाले ने स्पांसर किया था। उसने देखा कि एंकर उस ब्रांड के कंगन पहने बैठी हुई है, क्योंकि कंगन की स्पांसरशिप उस कंगन कंपनी ने दी थी। एंकर ने उस ब्रांड की अगरबत्ती जलायी हुई थी, क्योंकि उस अगरबत्ती कंपनी ने भी शो को स्पांसर किया था। एक एंकर बार-बार कह रही थी कि करवा चौथ व्रत का असली सकारात्मक परिणाम तब मिलेगा जब पति और पत्नी विदेश जाकर चांद के दर्शन करें। इस शो की स्पांसरशिप एक टूर कंपनी ने की थी। पतिव्रता स्त्री चकरायमान हो गयी कि बिना मोटे खर्च के क्या करवाचौथ मनाना संभव नहीं है। इस सवाल के जवाब में एक ज्ञानी ने बताया, पहले करवाचौथ सस्ते में मन लेता था पर जबसे महर्षि करण जौहर ने अपनी फिल्मों में करवा चौथ डालना शुरु कर दिया, वो महंगा हो लिया। सती सावित्री ने अपनी बुद्धिमत्ता से ही यमराज को पटक लिया था फिर महंगे गहनों और विदेशी टूर की क्या जरुरत है। सती सावित्री पर अभी करण जौहर का ध्यान नहीं गया है। सती सावित्री की कथा जब करण जौहर कहेंगे, तो उसमें एक विराट डांस सीक्वेंस जरुर आयेगा। हे भगवान तो क्या सस्ते में करवा चौथ व्रत नहीं निपट सकता क्या। ना, ना, ना, क्योंकि महर्षि करण जौहर महंगा और फुलटू विराट टाइप करवा चौथ ही व्रत चाहते हैं।

Next Story
Top