Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

इस्लामाबाद लिटरेचर फेस्टिवल में दुनिया भर की 175 हस्तियों ने भाग लिया

ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी प्रेस (ओयूपी) ने शुक्रवार को तीसरा इस्लामाबाद लिटरेचर फेस्टिवल (आइएलएफ) शुरू किया।

इस्लामाबाद लिटरेचर फेस्टिवल में दुनिया भर की 175 हस्तियों ने भाग लिया
इस्लामाबाद. ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी प्रेस (ओयूपी) ने शुक्रवार को तीसरा इस्लामाबाद लिटरेचर फेस्टिवल (आइएलएफ) शुरू किया। इस महोत्सव में पाकिस्तान सहित दुनिया भर के पाठकों अकादमिक और साहित्यिक हस्तयों ने भाग लिया।
आइएलएफ के इस तीन दिवसीय साहित्यिक महोत्सव में साहित्य, संगीत, कला, कविता,राजनीति, इतिहास शिक्षा पर कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। साथ ही इसमें पुस्तक मेले का आयोजन भी किया गया।
इस महोत्सन में लगभग 175 लेखकों, वक्ताओं और पैनलिस्ट ने भाग लिया। जिसमें 150 तो पाकिस्तान से थे और बाकी 25 ब्रिेटेन, फ्रांस, ऑस्ट्रेलिया और भारत से हैं। कार्यक्रम में 60 सत्र थे और 22 किताबों को लॉंच किया गया।
आइएलएफ ऐसा साहित्यिक कार्यक्रम है जिसके माध्यम से बड़े पैमाने पर श्रोताओं तक अपने विचार और बात पहुंचाई जा सकती है। यह एक एक साहित्यिक और सांसकृतिक कार्यक्रम है जिसके माध्यम से देश और दुनिया के तमाम लेखक एक ही मंच पर अपनी बात रखते हैं।
इस्लामाबाद लिटरेचर फेस्टिवल में विभिन्न पुरस्कार प्राप्त साहित्यकारों ने भाग लिया। कार्यक्रम में किश्वर नाहिद की कविता 'ये हम गुनाहगार औरतें हैं' को भी प्रस्तुत किया गया। इसके अलावा इस्मत चुगताई की कहानी, अंग्रेजी कविताओं का पाठ और फिल्म स्क्रीनिंग भी गई।
इस तीन दिवसीय कार्यक्रम के यूएसएआइडी ( पाकिस्तानी रीडिंग प्रोजेक्ट द्वारा सहायता प्राप्त), इस्लामाबाद में स्थित अमेरिकन दूतावास, फांस दूतावास, इटली दूतावास, ब्रटिश काउंसिल सहित कईयों ने स्पॉंसर किया।
ओयूपी की मैनेजिंग डाइरेक्टर अमीना सईद ने इसल मौके पर अपनी बात रखते हुए कहा 'आईएलएफ की विशेषता ये है कि इसमें कविता, संगीत, इतिहास और पुस्तक मेले का आयोजन एक साथ किया जाता है। उन्होंने आगे कहा कि इस तरह के आयोजनों से लोगों में किताबों को पढ़ने के प्रति जागरूकता फैलाई जा सकती है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top