Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

देश के समग्र और समेकित विकास का भाजपा का वादा

भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने तीन बातें कही है जो काफी महत्वपूर्ण हैं।

देश के समग्र और समेकित विकास का भाजपा का वादा
X
नई दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी द्वारा लोकसभा चुनावों के लिए जारी किया गया घोषणापत्र उम्मीदों के अनुरूप है। जब देश में चौतरफा निराशा का माहौल हो और इससे निकलने के लिए सत्तापक्ष की ओर से कोई विशेष पहल नहीं हो रही हो तब देश को ऐसे ही विजन की दरकार होती है। जिससे समस्याओं को दूर करने और विकास के पथ पर आगे बढ़ने की प्रेरणा मिल सके। देखा जाए तो भाजपा ने इसे एक संकल्प पत्र के रूप में पेश किया है। अर्थात वह यह सुनिश्चित करेगी कि घोषणापत्र में जितनी बातें कही गई हैं, वे सब लागू हों।
इस तरह यदिघोषणापत्र के रूप में सभी वगरें की चिंता करने वाला यह विजन दस्तावेज साकार होता है तो देश को बुनियादी समस्याओं से निजात पाने से कोई नहीं रोक सकता है। इसमें शिक्षा, स्वास्थ्य, बुनियादी ढांचा, रोजगार के नए साधन, बुलेट ट्रेन और साथ ही नए शहर बनाने की बात की गई है, जाहिर है इससे अर्थव्यवस्था को शक्ति मिलेगी। साथ ही महंगाई को रोकने के लिए एक फंड बनाने की बात कही गई है। आज महंगाई से लोग किस कदर बेहाल हैं कहने की जरूरत नहीं है। यूपीए पर यह आरोप है उसके शासनकाल में देश में हर प्रकार की समस्याओं से निपटने में गिरावट आई है। चाहे वह शासन हो, आर्थिक स्थिति हो, राजनयिक अपमान हो, विदेश नीति की असफलता हो, सीमापार घुसपैठ हो, भ्रष्टाचार और घोटाले हों या महिलाओें के साथ होने वाले अपराध हों। इस तरह यह घोषणापत्र आज देश जिन-जिन समस्याओं का सामना कर रहा है, उससे निदान की बात करता है।
विरोधी दल अकसर भाजपा की इस बात के लिए आलोचना करते हैं कि वह राम मंदिर निर्माण, समान नागरिक संहिता और अनुच्छेद-370 जैसे मुद्दों को सिर्फ वोट के लिए इस्तेमाल करती है और जब जब चुनाव आते हैं तभी इसकी चर्चा करती है, परंतु पार्टी ने अपने घोषणापत्र में इन मुद्दों को शामिल कर उनको जवाब देने का काम किया है। उसने स्पष्टशब्दों में कहा है कि सत्ता में आने के बाद संविधान के दायरे में मंदिर निर्माण की संभावनाओं को तलाशा जाएगा।
वहीं भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी ने तीन बातें कही है जो काफी महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने कहा है कि वह देशहित में काम करेंगे, बदनीयती तथा व्यक्तिगत फायदे के लिए कुछ नहीं करेंगे। इस दृष्टि से यह कहा जा सकता हैकि यदि इसे अमलीजामा पहनाया गया तो देश की आशा और आकांक्षाओं को पूरा करने का दस्तावेज हो सकता है। कुल मिलाकर अपने 52 पन्नों के घोषणापत्र में भाजपा ने देश के समग्र और समेकित विकास का वादा किया है। हालांकि भारतीय जनता पार्टी ने अपना घोषणापत्र एक पखवाड़े के विलंब से जारी किया है। कई लोग उसकी इसके लिए आलोचना भी कर रहे हैं कि जब लोक सभा के पहले चरण का मतदान चल रहा है उस दिन घोषणापत्र लाना उचित नहीं है, परंतु एक बात कही जा सकती है कि देर से आए पर दुरुस्त आए।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि और हमें फॉलो करें ट्विटर पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top