Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

कांग्रेस ने घूस लेकर नाइक की करतूतों पर डाला परदा: भाजपा

राजीव गांधी फाउंडेशन को दान मिलने संबंधी रिपोर्ट आने के बाद भाजपा ने साधा कांग्रेस पर निशाना।

कांग्रेस ने घूस लेकर नाइक की करतूतों पर डाला परदा: भाजपा
X
नई दिल्‍ली. विवादों में घिरे इस्लामिक धर्म प्रचारक जाकिर नाइक के एनजीओ इस्लामिक रिसर्च फाउंडेशन (आइआरएफ) से राजीव गांधी फाउंडेशन को 50 लाख रुपए का दान मिलने संबंधी रिपोर्ट आने के बाद भाजपा ने कांग्रेस पर हमला बोला है। भाजपा का कहना है कि कांग्रेस ने यह चंदा लेकर राष्‍ट्र की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ किया है और उसने इस्लामिक फाउंडेशन की देश विरोधी गतिविधियों पर पर्दा डालने के लिए यह पैसा लिया।

भाजपा प्रवक्ता रविशंकर प्रसाद ने शुक्रवार को कहा, 'जाकिर नाइक की इस्लामिक फाउंडेशन की राष्‍ट्र विरोधी गतिविधियों पर पर्दा डालने के लिए राजीव गांधी फाउंडेशन ने उससे 50 लाख रुपए चंदे के तौर पर लिए। दरअसल ये रिश्वत थी, चंदा नहीं। कांग्रेस ने यह चंदा लेकर राष्‍ट्र की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ किया है।'

भाजपा ने कहा, 'जाकिर के एनजीओ ने 2011 में राजीव गांधी फाउंडेशन को 50 लाख रुपए दिए थे। कांग्रेस ने शुरुआत में यह रकम लेने की बात से इनकार किया था। क्या राजीव गांधी फाउंडेशन फॉरन कॉन्ट्रीब्यूशन रेग्‍युलेशन ऐक्‍ट के तहत रजिस्टर्ड था? अगर हां तो किन मानकों और शर्तों के साथ?'

एनबीटी की रिपोर्ट के मुताबिक, भाजपा ने कांग्रेस से सफाई मांगते हुए कहा कि अगर सरकार की संसद में औपचारिक तौर पर राय थी कि सुरक्षा एजेंसियों ने पीस टीवी समेत 24 चैनलों को सुरक्षा के लिए खतरा माना है तो यह रकम 2012 में वापस क्यों नहीं कर दी गई?

जाकिर नाइक पर भड़काऊ भाषण देकर लोगों को आतंकी गतिविधियों में शामिल होने के लिए उकसाने का आरोप है। हाल में ही बांग्लादेश की राजधानी ढाका के एक पॉश रेस्तरां पर हुए आतंकी हमले में जो लोग शामिल थे, वह भी कथित तौर पर जाकिर के भाषणों से प्रेरित बताए गए हैं।

कांग्रेस ने दिया जवाब
उधर, भाजपा के इन आरोपों के बाद कांग्रेस ने अपना पक्ष रखा। कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा, 'सरकार को लोगों को यह बताना चाहिए कि जब कांग्रेस को जाकिर नाइक के एनजीओ से पैसे मिले तब क्‍या इस संगठन की गतिविधियों को लेकर उस पर किसी तरह का शक था? क्‍या कांग्रेस भविष्‍यवक्‍ता है जो उसे उस वक्‍त इस बारे में पता होता?'

सिंघवी ने कहा, 'हो सकता है इस संगठन पर अब आरोप हों लेकिन 2014-2016 के बीच और बांग्‍लादेश में हुए भयंकर बम धमाकों के बाद एनडीए सरकार ने इस संगठन पर खुद से प्रतिबंध क्‍यों नहीं लगाया। ऐसा इसीलिए ना क्‍योंकि इस संगठन के खिलाफ देश में और वैश्विक स्‍तर पर हाल में ही शक की सुई घूमी है। यह बहुत ही दुर्भाग्‍यपूर्ण है कि जो लोग सत्‍ता में हैं वे इस मुद्दे को उछालने में लगे हैं।'
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story