Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अलविदा 2018: इन पांच विवादित बयानों से भारतीय राजनीति हुई शर्मसार, ये दिग्गज हैं शामिल

साल 2018 के विदा होने में चार दिन शेष बचे हैं और हम नए साल 2019 (News Year 2019) में प्रवेश करने जा रहे हैं। लेकिन ये साल राजनीतिक बयानबाजी में गिरते स्तर का गवाह रहा है।

अलविदा 2018: इन पांच विवादित बयानों से भारतीय राजनीति हुई शर्मसार, ये दिग्गज हैं शामिल

साल 2018 के विदा होने में चार दिन शेष बचे हैं और हम नए साल 2019 (New Year 2019) में प्रवेश करने जा रहे हैं। लेकिन ये साल राजनीतिक बयानबाजी में गिरते स्तर का गवाह रहा है।

राजनीतिक बयानबाजी में पीएम मोदी से लेकर राहुल गांधी के अलावा कई वरिष्ठ नेताओं ने भारतीय राजनीति की मर्यादा की सीमा को लांघ दिया है। इन नेताओं के बयानों से देश की राजनीति शर्मसार हुई है।

चुनावी जनसभाओं को संबंधित करते हुए एक दूसरे राजनीतिक दलों के नेताओं ने जमकर एक दूसरे पर आरोप लगाए। साथ ही कुछ ऐसे भी बयान दिए जिससे राजनीति कलंकित हुई। हम आपको ऐसे ही पांच बयान बता रहें जिससे राजनीति कलंकित हुई हैं...

इन नेताओं ने दिए देश की राजनीति को शर्मसार करने वाले बयान

* प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi)

* भाजपा अध्यक्ष अमित शाह (BJP President Amit Shah)

* सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath)

* कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Congress President Rahul Gandhi)

* उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर (Uttar Pradesh Congress President Raj Babbar)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi)

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजस्थान में विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान जयपुर में दौरान सोनिया गांधी का नाम लिए बगैर विवादित टिप्पणी की थी।

पीएम मोदी ने कहा था कि नामदार परेशान क्यों हैं, क्योंकि मोदी जो एक-एक कदम उठा रहा है जिसके कारण कांग्रेस की एक एक करके दुकाने बंद होती चली जा रही है। जिससे कांग्रेस के फ्री में खाने के रास्ते बंद हो रहे हैं। जिससे उनकी नींद हराम हो गई है।

पीएम मोदी ने यह भी कहा था कि आप कल्पना कर सकते हो हमारे देश में कांग्रेस ने ऐसी सरकार चलाई, जो बेटी पैदा नहीं हुई, जिस बेटी का जन्म नहीं हुआ, वो कांग्रेस सरकारों के कागज पर, वो बेटी विधवा भी हो गई और बेटी को विधवा पेंशन भी मिलना शुरू हो गई। ये रुपए कौन-कौन विधवा थीं जो लेती थीं? ये कांग्रेस की कौन सी विधवा थी, जिसके खाते में रुपया जाता था?

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह (BJP President Amit Shah)

इस साल सुप्रीम कोर्ट ने केरल के प्रसिद्ध मंदिर सबरीमाला में 10 से 50 साल की महिलाओं के प्रवेश पर लगी रोक को लेकर ऐतिहासिक फैसला सुनाया था। भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने कोर्ट के इस फैसले के खिलाफ बयान दिया था।

अमित शाह ने कहा था कि अदालतें इस तरह के फ़ैसले ना दें जो व्यवहारिक ना हों। कोर्ट को ऐसे आदेश देने चाहिए जिन्हें लागू किया जा सके और न कि ऐसे फैसले जो लोगों की आस्था पर चोट पहुंचाए। आखिरकार आप 5 करोड़ भक्तों के विश्वास को कैसे तोड़ सकते हैं?

सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राजस्थान में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए हनुमान जी को दलित बताया था। देश की राजनीतिक का स्तर इतनी नीजे गिर गया है कि भागवान हनुमान जी के को भी इसमे घसीट लिया गया।

वहीं मध्य प्रदेश के भोपाल में सीएम योगी ने चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि कमलनाथ जी आप को ये अली मुबारक, हमारे लिए बजरंग बली ही पर्याप्त होंगे।

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी (Congress President Rahul Gandhi)

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने राजनीतिक बयानबाजी के दौर में पीछे नहीं रहे। राहुल गांधी ने भी राफेल सौदे को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को घेरा और पीएम मोदी को चौकीदार ही चोर है कहा था?

उत्तर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राज बब्बर (Uttar Pradesh Congress President Raj Babbar)

अभिनेता से राजनेता बने राज बब्बर वर्तमान में उत्तर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष हैं। इस साल राज बब्बर ने राजनीति में बयानबाजी के गिरते स्तर का सबसे बड़ा उदाहरण पेश किया था।

कांग्रेस नेता राज बब्बर ने मध्य प्रदेश के इंदौर में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा था कि रुपये की कीमत इतनी गिर गई है कि यह उनकी (नरेंद्र मोदी) मां की उम्र की ओर बढ़ रही है।

Share it
Top