logo
Breaking

अलविदा 2018 / इन नेताओं की फिसली जुबान, एक ने तो पार कर दी सारी हदें

साल 2018 में हर रोज एक-एक दिन कम हो रहा है। यह साल नेताओं की बयानबाजी के लिए बहुत खास रहा। हो भी क्यों न 5 राज्यों में चुनाव थे। तो नेताओं को बोलने का मौका था। बोलने के लिए मौके की तलाश में कई नेता जी कुछ ऐसा बोल गए कि पार्टी उन्हें दोबारा माइक पकड़ाने में चार बार सोचेगी। ऐसे ही कई नेता अपने बयानों के कारण विवादों में घिरे रहे।

अलविदा 2018 / इन नेताओं की फिसली जुबान, एक ने तो पार कर दी सारी हदें
साल 2018 में हर रोज एक-एक दिन कम हो रहा है। यह साल नेताओं की बयानबाजी के लिए बहुत खास रहा। हो भी क्यों न 5 राज्यों में चुनाव थे। तो नेताओं को बोलने का मौका था। बोलने के लिए मौके की तलाश में कई नेता जी कुछ ऐसा बोल गए कि पार्टी उन्हें दोबारा माइक पकड़ाने में चार बार सोचेगी। ऐसे ही कई नेता अपने बयानों के कारण विवादों में घिरे रहे।

कमलनाथ

कांग्रेस के कद्दावर नेता कमलनाथ एक कमरे में बैठे थे। उनके चारो ओर काफी लोग भी बैठे थे। कमलनाथ वहां कह रहे थे कि हर मुस्लिम का वोट कांग्रेस को मिलना चाहिए। उन्होंने आगे भाजपा पर निशाना भी साधा कि वह मुस्लिमों की हितैषी नहीं है। लेकिन इस चक्कर में नेता जी को ध्यान ही नहीं रह गया कि जमाना सोशल मीडिया का है। जुबान से पहले लोगों के मोबाइल पर लगाम लगानी पड़ती है। किसी ने नेता जी के बड़बोलेपन को रिकार्ड कर लिया। फिर क्या था नेता जी वायरल हो गए। पहले सोशलमीडिया पर छाए रहे फिर टीवी चैनलों पर। फिलहाल नेताजी ने जो भी रायता फैलाया कांग्रेस बस उसे साफ करती हुई नजर आई।

आगे की स्लाइड्स में जानिये जब राहुल गाँधी और योगी आदित्यनाथ की फिसली जुबान...

Loading...
Share it
Top