Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

मोदी और ट्रंप की फिर होगी मुलाकात, दावोस में बजेगा भारत का डंका

एक बार फिर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की मुलाकात हो सकती है। दरअसल, 22 जनवरी को स्विट्जरलैंड के दावोस में वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम (डब्ल्यूईएफ) की सालाना बैठक आयोजन हो रहा है।

मोदी और ट्रंप की फिर होगी मुलाकात, दावोस में बजेगा भारत का डंका
X

एक बार फिर भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमेरिकन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की मुलाकात हो सकती है। दरअसल, 22 जनवरी को स्विट्जरलैंड के दावोस में वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम (डब्ल्यूईएफ) की सालाना बैठक आयोजन हो रहा है।

डब्ल्यूईएफ की इस बैठक में भारत का डंका बजेगा। पीएम मोदी दावोस में विश्व आर्थिक मंच को संबोधित करेंगे। फोरम हिस्सा लेने के लिए डोनाल्ड ट्रंप भी आएंगें।व्हाइट हाउस की प्रेस सेक्रेटरी सारा सैंडर्स की ओर से इस बाबत जो भी जानकारी दी गई है उससे तो दोनों नेताओं की मुलाकात का अंदाजा लगाया जा रहा है।

इसे भी पढ़ेंः प्रवासी सांसद सम्मेलन: तीस देशों में भारत का नाम रोशन कर रहे ये NRI

सैंडर्स ने एक बयान में कहा है कि अमेरिकी राष्ट्रपति इस मौके पर दुनिया के नेताओं के सामने अपने अमेरिका फर्स्ट के एजेंडा को रखेंगे। उन्होंने कहा कि इस साल विश्व आर्थिक मंच पर ट्रंप अमेरिकी व्यवसाय, उद्योग और कामगारों को मजबूती देने के लिए अपनी नीतियों को प्रमोट करेंगे।

60 देशों के राष्ट्राध्यक्ष लेंगे हिस्सा

दावोस में होने वाली डब्ल्यूईएफ की इस बैठक को अभी दुनिया में आर्थिक गतिविधियों का सबसे बड़ा केंद्र माना जाता है। इस बार 60 देशों के राष्ट्राध्यक्ष, जबकि 350 राजनीतिक नेता इसमें हिस्सा लेंगे। हर देश इस सम्मेलन के जरिये अपनी निवेश के अनुकूल छवि पेश करने की कोशिश करता है। इसके पहले 1997 में तत्कालीन प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा ने दावोस की बैठक में हिस्सा लिया था।

भारत से ये लोग जाएंगे प्रधानमंत्री के साथ

दावोस में दुनिया भर के निवेशकों के बीच भारत की ब्रांडिंग करने के लिए मोदी के साथ छह अन्य केंद्रीय मंत्रियों का भी दल होगा। इसमें भारतीय उद्योग जगत का भी एक बड़ा दल हिस्सा लेगा, जो भारत की निवेश की अनुकूल छवि को पेश करेगा।

एक रिपोर्ट के मुताबिक इनमें सुरेश प्रभु, वित्त मंत्री अरुण जेटली, रेल मंत्री पीयूष गोयल, पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह और विदेश राज्य मंत्री एमजे अकबर शामिल हैं। इनके साथ आंध्र प्रदेश और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू व देवेंद्र फडणवीस भी सम्मेलन में शामिल होंगे।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story