Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

वर्ल्ड इकोनोमिक फोरमः ज़्यूरिख पहुंचे पीएम मोदी, 18 देशों के प्रतिनिधि के साथ करेंगे डिनर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सम्बोधन से पहले भारत के प्रमुख उद्योगपतियों ने संरक्षणवाद जैसे मुद्दों से निपटने के लिये देश से आज अग्रणी भूमिका निभाने को कहा है।

वर्ल्ड इकोनोमिक फोरमः ज़्यूरिख पहुंचे पीएम मोदी, 18 देशों के प्रतिनिधि के साथ करेंगे डिनर

वर्ल्ड इकोनोमिक फोरम (डब्ल्यूईएफ) को संबोधित करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ज्यूरिख पहुंच गए हैं। पीएम मोदी आज यहां 18 देशों प्रतिनिधि के साथ डिनर करेंगे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सम्बोधन से पहले भारत के प्रमुख उद्योगपतियों ने संरक्षणवाद जैसे मुद्दों से निपटने के लिये देश से आज अग्रणी भूमिका निभाने को कहा है। ऐसा माना जा रहा है कि अमेरिका जैसे देश इस मंच पर संरक्षणवाद और घरेलू हित जैसे मुद्दों की वकालत कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ेंः सुषमा स्‍वराज ने दिखाई दरियादिली, भारत के दूल्‍हे संग कराई पाकिस्‍तानी दुल्‍हन की शादी- जानें पूरा मामला

कोटक महिंद्रा बैंक के कार्यकारी उपाध्यक्ष और प्रबंध निदेशक उदय कोटक ने कहा कि भारत को सेल्स और मार्केटिंग का महीन फर्क समझना चाहिए तथा खुद को अग्रणी भूमिका में रखते हुए अपनी कहानी पेश करनी चाहिए। स्पाइसजेट के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) अजय सिंह ने कहा कि भारत के पास दावोस में कहने के लिए शानदार कहानी है और इसे प्रस्तुत करने के लिए प्रधानमंत्री मोदी से बेहतर कोई नहीं हो सकता है।

आईसीआईसीआई बैंक की मुख्य कार्यकारी अधिकारी तथा प्रबंध निदेशक चंदा कोचर ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था विभिन्न क्षेत्रों में व्यापक सुधार से गुजर रही है और तेज आर्थिक वृद्धि के ऐसे रास्ते पर अग्रसर है जिससे हर कोई लाभान्वित हो सकता है।

अमेरिका फर्स्ट की वकालत करेंगे ट्रंप

भारतीय सीईओ ने कहा कि वैश्विक समुदाय प्रधानमंत्री मोदी को सुनने का इंतजार कर रहा है। उनका भाषण इसलिए भी अधिक रोचक हो गया है क्योंकि बाद में अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप सम्मेलन में अपने ‘अमेरिका फर्स्ट' की वकालत कर सकते हैं। ट्रंप यह भी बता सकते हैं कि उन्होंने कॉरपोरेट कर की दर कम कर कैसे अमेरिकी कंपनियों को अमेरिका में ही मुनाफा तथा रोजगार के अवसर सृजित करने के लिए वापस बुलाया। मोदी मंच के पूर्ण सत्र में कल अपना भाषण देने वाले हैं।

पीएम मोदी ने कहा

मोदी ने दावोस के लिए रवाना होने से पहले कहा था कि वह अपने कार्यक्रमों के दौरान अंतरराष्ट्रीय समुदाय के साथ भारत के भविष्य के संबंधों पर अपना नजरिया रखेंगे तथा चाहेंगे कि दुनिया के नेता मौजूदा वैश्विक प्रणालियों के समक्ष वर्तमान तथा नयी उभर रही चुनौतियों पर ‘गंभीरता से ध्यान दें।'

Next Story
hari bhoomi
Share it
Top