Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

Abhinandan Return Live : भारत में पहुंचे विंग कमांडर अभिनंदन

Abhinandan Return Live : भारत और पाकिस्तान के रिश्तों के लिए आज का दिन काफी अहम है। पाकिस्तान आर्मी की ओर से बंदी बनाए गए भारतीय विंग कमांडर अभिनंदन की आज वतन वापसी होगी। अमेरिका समेत कई देशों के दबाव और भारत के आक्रामक रुख के बाद पाकिस्तान ने यह फैसला लिया।

Abhinandan Return Live : भारत में पहुंचे विंग कमांडर अभिनंदन

Abhinandan Return Live Highlights

  • भारत में लौटे अभिनंदन।
  • अभिनंदन को अभी वाघा बार्डर नहीं लाया गया है।
  • एयर वाइस मार्शल रवि कपूर प्रेस कान्फ्रेंस करेंगे।
  • अटारी बॉर्डर पर विंग कमांडर अभिनंदन पहुंच गए हैं। पाकिस्तान में उनका मेडिकल किया जा रहा है।
  • पाकिस्तानी सेना सख्त सुरक्षा में अभिनंदन को लेकर वाघा बॉर्डर पहुंची है।
  • अभिनंदन की भारत वापसी को लेकर लोग वाघा बॉर्डर पर फूलमालाएं लेकर 'अभिनंदन' का इंतजार कर रहे हैं
  • पाकिस्तान प्रधानमंत्री इमरान खान ने पाक संसद में भारतीय पायलट अभिनंदन की रिहाई का आदेश दिया था
  • अभिनंदन की रिहाई पर पीएम मोदी ने कहा कि एक पायलट प्रोजेक्ट पूरा हो गया, मिशन अभी बाकी है
  • अभिनंदन के माता पिता ने जताई ख़ुशी
  • 3 से 4 बजे के बीच भारत लौटेंगे विंग कमांडर अभिनंदन
  • वायुसेना का एक प्रतिनिधिमंडल करेगा विंग कमांडर अभिनंदन का 'अभिनंदन'
  • वायुसेना का एक प्रतिनिधिमंडल शुक्रवार को विंग कमांडर अभिनंदन को लेने वाघा सीमा जाएगा,
  • जिन्हें पाकिस्तान ने एक हवाई संघर्ष के दौरान हिरासत में ले लिया था।
  • भारतीय वायुसेना के अधिकारियों की एक टीम शुक्रवार शाम में वाघा सीमा पर विंग कमांडर अभिनंदन को लेने जाएगी।
  • हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि पाकिस्तान अभिनंदन को अंतरराष्ट्रीय रेड क्रॉस को सौंपेगा या भारतीय अधिकारियों को।

नई दिल्ली / इस्लामाबाद. विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान के जज्बे, हिम्मत और हौसले के साथ जब भारत का कूटनीतिक जोर लगा तो पाकिस्तान को झुकना ही पड़ा। महज 30 घंटों में पाकिस्तान घुटनों पर आ गया। बुधवार सुबह पाकिस्तान ने भारतीय वायु सीमा का उल्लंघन करते हुए कश्मीर के राजौरी तक अपने लड़ाकू विमान भेजे। लेकिन भारतीय वायु सेना पहले से तैयार थी। जिन भारतीय जांबाजों ने पाकिस्तानी वायु सेना का जवाब दिया उनमें से एक अभिनंदन भी थे। उन्होंने अपने मिग-21 से न सिर्फ पाकिस्तान के जंगी विमान एफ-16 से लोहा लिया बल्कि उसे मार भी गिराया। लेकिन, इस लड़ाई में उनका मिग विमान दुर्घटनाग्रस्त हो गया और वो पाक अधिकृत कश्मीर के भीतर भीमबेर जिले के होरान गांव में जा गिरा। पाकिस्तानी अखबार डॉन के मुताबिक ये करीब सुबह 8.45 का वक्त रहा होगा।

Abhinandan Return Live Update

IAF के वरिष्ठ अधिकारी बॉर्डर पहुंचेविंग कमांडर अभिनंदन को रिसीव करने के लिए एयरफोर्स के सीनियर अधिकारी बॉर्डर पहुंच गए हैं।

थोड़ी देर में पाकिस्तान के अधिकारी अभिनंदन को भारतीय अधिकारियों को सौंपेगे।

विंग कमांडर अभिनंदन की वापसी को देखते हुए अटारी बॉर्डर पर बीटिंग रिट्रीट कैंसिल करने का फैसला लिया गया है

उपायुक्त शिव दुलार सिंह ढिल्लों, अमृतसर: विंग कमांडर #AbhinandanVarthaman आज सीमा पार करेंगे, आपको निश्चित समय नहीं बता सकते क्योंकि कुछ औपचारिकताएं हैं। दिल्ली से भारतीय वायु सेना की एक वरिष्ठ टीम यहां है, जो उन्हें लेने आई है।

विंग कमांडर अभिनंदन की अटारी-वाघा बॉर्डर पर रिहाई कराने की दिशा में काम शुरू हो गया है। पाकिस्तान में भारतीय उच्चायुक्त ने विंग कमांडर की सकुशल रिहाई के लिए सभी तरह की कागजी कार्रवाई पूरी कर ली है।

आगे की कार्रवाई के लिए पाकिस्तान विदेश ऑफिस अपना बयान जारी कर सकता है। विंग कमांडर अभिनंदन की अटारी-वाघा बॉर्डर पर पहुंचने से पहले अटारी सीमा पर भारतीय वायुसेना की टीम पहुंच गई है।

विंग कमांडर अभिनंदन का वीडियो वायरल

विंग कमांडर के पाकिस्तान क्षेत्र में गिरने के बाद शुरू हुआ पाकिस्तान का खेल। अभिनंदन के कुछ वीडियो और तस्वीरें सोशल मीडिया के जरिए सामने आए। इनमें से कुछ में उनके साथ मारपीट की तस्दीक भी हुई। उनकी पहचान जाहिर करने वाला वीडियो भी सामने आया। ये सभी वीडियो साफ तौर पर जिनेवा समझौते का भी उल्लंघन है। किसी युद्ध बंदी के इस तरह के प्रदर्शन की इजाजत ये समझौता नहीं देता। बुधवार दोपहर 3.15 पर भारत के विदेश मंत्रालय ने एक प्रेस कॉन्फ्रेन्स कर पायलट के 'मिसिंग इन एक्शन' यानी लड़ाई के दौरान गुमशुदा होने की बात कही। साथ ही ये भी बताया गया कि हमने पाकिस्तान का एक एफ-16 विमान मार गिराया है। बुधवार शाम को ही अभिनंदन का एक और वीडियो सामने आया जिसमें वो पाकिस्तानी सेना के कब्जे में हैं और चाय पीते दिख रहे हैं। ये वीडियो अभिनंदन के हिम्मत और हौसले की मिसाल बन गया जिसमें वो बिना किसी शिकन या डर के पाकिस्तानी अफसर के सवालों का जवाब देते दिखे। जिस सवाल का जवाब उन्हें लगा नहीं देना है, उन्होंने नहीं दिया। शाम होते-होते जब ये पूरी तरह साफ हो गया कि अभिनंदन पाकिस्तानी सेना के कब्जे में है तो भारत की ओर से बेहद सख्त लहजे में पाकिस्तान को कहा गया कि वो जल्द से जल्द अभिनंदन वर्तमान को लौटाएं।

भारत के कड़े तेवर और फौरन एक्शन

रात होते-होते, अभिनंदन की वापसी के लिए भारत हर कूटनीतिक दरवाजे को खोल चुका था। गुरुवार सुबह करीब 9 बजे खबर आई कि राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल ने अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो से फोन पर बात की। पाकिस्तान स्थित भारतीय उच्चायोग ने पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय को आपत्ति पत्र (डिमार्शे) सौंपकर विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान की तुरंत रिहाई की मांग की।दोपहर करीब 12 पता लगा कि पाकिस्तान अभिनंदन को लेकर ब्लैकमेलिंग के मूड में है।पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ने कहा कि भारत अपना पायलट ले और बातचीत शुरू करे।अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा कि कोई अच्छी खबर सामने आने वाली है। जाहिर है, भारत का कूटनीतिक दबाव काम करने लगा था।पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने जियो टीवी से बात करते हुए कहा कि इमरान खान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बातचीत के लिए तैयार हैं।भारत ने कॉन्सुलर एक्सेस की जगह अभिनंदन की तुरंत रिहाई की मांग की। दोपहर करीब 3 बजे भारत ने एक बार फिर चेतावनी दी कि पाकिस्तान के साथ कोई डील नहीं की जाएगी। भारत ने दोहराया कि अभिनंदन को खरोंच भी आई तो कड़ी कार्रवाई की जाएगी।शाम करीब 4.30 बजे- पाकिस्तान ने आखिरकार झुकते हुए कहा कि वो भारतीय पायलट अभिनंदन वर्तमान को छोड़ने को तैयार है।

ऐसा पहली बार नहीं....

1999 में पाक की कैद में थे 6 जवान, पार की थी क्रूरता की हद

ऐसा पहली बार नहीं है जब पाकिस्तान गिरफ्त में कोई भारतीय सैनिक हो. करगिल युद्ध के दौरान हमारे देश के कैप्टन सौरभ कालिया और उनके साथियों को पाकिस्तान ने अपनी कैद में ले लिया था। जिसके जिस हालत में उनके शव भारत भेजे गए उस वक्त उन्हें पहचनना मुश्किल हो गया था।20 साल पहले की गई पाकिस्तान की ये घटना दर्शाती है कि उसने कैसे बर्बरता की सारी हदें पार कर दी थी। कैप्टन सौरभ कालिया ने करगिल में पाकिस्तानी सैनिकों की बड़ी घुसपैठ का सामना किया था। मई 1999 को कैप्टन कालिया और उनके 5 साथियों को पाकिस्तानी फौजियों ने बंदी बना लिया था। जिसके बाद वहां से भारतीय जवानों के शव वापस आए तो ऑटोप्सी रिपोर्ट से पता चला कि भारतीय जवानों के साथ पाकिस्तान ने बेरहमी की थी। पाकिस्तान सेना ने हमारे देश के सैनिकों को सिगरेट से जलाया था और उनके कानों में लोहे की सुलगती छड़ें डाली गई थीं। उनकी आंखें निकाल ली गई थीं, उनके अधिकांश दांत और हड्डियां तोड़ दी थीं, मारा-पीटा और यहां तक कि उनके उनके शरीर के अंग भी काट दिए थे। सैनिकों मानसिक और शारीरिक रूप से टॉर्चर किया। सौरभ कालिया के साथ उनके पांच साथी थे जिनके नाम नरेश सिंह, भीखा राम, बनवारी लाल, मूला राम और अर्जुन राम था। ये सभी दुश्मन के हाथों पकड़े गए थे। 20 से ज्यादा दिनों तक सैनिकों पर जबरदस्त पाकिस्तान सरकार ने जबरदस्त कहर बरसाया। सौरभ कालिया की उम्र उस वक्त 22 साल थी और अर्जुन राम की महज 18 साल। सौरव कालिया बटालिक में 5 जवानों की अपनी टुकड़ी के साथ गश्त पर थे।. गश्त के दौरान ही पाकिस्तानी घुसपैठियों ने उन्हें पकड़ लिया था।

Next Story
Share it
Top