Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पाकिस्तान से आकर अब यहां हैं विंग कमांडर अभिनंदन, जानिए क्या-क्या हो रहा है उनके साथ

पाकिस्तान से रिहाई के बाद अटारी-वाघा सीमा से शुक्रवार देर रात दिल्ली लाए गए विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान (Wing Commander Abhinandan Varthaman) विभिन्न चिकित्सा जांचों से गुजर रहे हैं। यह जानकारी अधिकारियों ने दी।

पाकिस्तान से आकर अब यहां हैं विंग कमांडर अभिनंदन, जानिए क्या-क्या हो रहा है उनके साथ

पाकिस्तान से रिहाई के बाद अटारी-वाघा सीमा से शुक्रवार देर रात दिल्ली लाए गए विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान (Wing Commander Abhinandan Varthaman) विभिन्न चिकित्सा जांचों से गुजर रहे हैं। यह जानकारी अधिकारियों ने दी।

उन्होंने बताया कि शनिवार सुबह अभिनंदन अपने परिवार के सदस्यों और भारतीय वायुसेना के कई शीर्ष अधिकारियों से मिले। अभिनंदन शुक्रवार की रात करीब पौने बारह बजे राष्ट्रीय राजधानी पहुंचे।

उन्हें तुरंत वायुसेना केन्द्रीय मेडिकल प्रतिष्ठान (एएफसीएमई) ले जाया गया जो सेना के तीनों अंगों के वायुकर्मियों का मेडिकल आकलन केन्द्र है। अभिनंदन को पाकिस्तानी अधिकारियों ने 27 फरवरी को तब पकड़ लिया था जब उनका लड़ाकू विमान मिग-21 पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों के साथ हवाई लड़ाई के दौरान नीचे गिर गया था।

अपने विमान के गिरने से पहले अभिनंदन ने पाकिस्तानी वायुसेना के एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराया था। अधिकारियों ने बताया कि विंग कमांडर अभिनंदन विभिन्न चिकित्सा जांचोंसे गुजर रहे हैं जिनके रविवार तक जारी रहने की उम्मीद है।

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य जांच का चरण पूरा होने जाने के बाद अभिनंदन की‘डीब्रीफिंग' (सवाल-जवाब) की प्रक्रिया शुरू होगी। अभिनंदन ने कल जब स्वदेश में कदम रखा तो उनकी दाहिनी आंख के पास वाला हिस्सा सूजा हुआ प्रतीत हुआ।

पाकिस्तान में जब अभिनंदन को पकड़ा गया तो उन्होंने अत्यंत जटिल परिस्थितियों में अदम्य साहस का परिचय दिया। नेताओं, रणनीति मामलों के विशेषज्ञों, पूर्व सैन्यकर्मियों, हस्तियों तथा देश की जनता ने उनके साहस की सराहना की।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अभिनंदन की वापसी का स्वागत किया और कहा कि उनके अदम्य साहस पर देश को गर्व है। मोदी ने शुक्रवार रात ट्वीट किया, 'स्वागत है विंग कमांडर अभिनंदन। राष्ट्र को आपके अदम्य साहस पर गर्व है।

हमारे सशस्त्र बल 130 करोड़ भारतीयों के लिए प्रेरणास्रोत हैं। भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव तब बढ़ गया जब भारत ने मंगलवार को पौ फटने से पहले पाकिस्तान के बालाकोट स्थित आतंकी संगठन जैश ए मोहम्मद के सबसे बड़े प्रशिक्षण शिविर को बमबारी कर तबाह कर दिया।

इसके जवाब में पाकिस्तान ने बुधवार को अपने विमानों से भारत के सैन्य ठिकानों को निशाना बनाने की कोशिश की, लेकिन भारतीय वायुसेना ने उसके इरादों को विफल कर दिया। भारतीय वायुसेना ने सीआरपीएफ के काफिले पर 14 फरवरी को हुए आत्मघाती हमले के 12 दिन बाद जैश ए मोहम्मद के ठिकानों पर बमबारी की। सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आत्मघाती हमले में 40 जवान शहीद हो गए थे।

Share it
Top