Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

जब अपनी हार पर अटल ने हंसकर दिया था ये जवाब, दंग रहा गया था आइएएस ऑफिसर

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी हमें छोड़कर जा चुके हैं। 93 की उम्र में एम्स में उन्होंने आखिरी सांसें ली। उनकी कविताएं और शब्द हमें प्रेरित करते रहेंगे। लेकिन उनका एक वाक्या शायद ही कोई भूल पाए।

जब अपनी हार पर अटल ने हंसकर दिया था ये जवाब, दंग रहा गया था आइएएस ऑफिसर
X

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी हमें छोड़कर जा चुके हैं। बस रह गईं हैं तो उनकी यादें। 93 की उम्र में एम्स में उन्होंने आखिरी सांसें ली। उनकी कविताएं और शब्द हमें प्रेरित करते रहेंगे।

अटल बिहारी वाजपेयी भारतीय राजनीति के दिग्गज नेता माने जाते हैं। कद्दावर नेता होने के बावजूद उनके हिस्से में हार लिखी थी। तीन बार उन्हें हार का सामना करना पड़ा था। एक ऐसी ही उनके हार की कहानी है जब हार की बात पर अटल ने लगाया था ठहाका।
1957 में अटल बिहारी मथुरा, बलरामपुर और लखनऊ तीन सीटों से चुनाव लड़े थे। मथुरा और लखनऊ से हार गए, लेकिन बलरामपुर से जीतने में सफल रहे। उन्हें दूसरी हार कांग्रेस की सुभद्रा जोशी के हाथों मिली।
1962 में लोकसभा चुनाव में कांग्रेस की सुभद्रा जोशी ने अटल बिहारी को महज दो हजार वोटों से हराया था। हालांकि इस हार से बचाने के लिए उन्हें राज्यसभा क दरवाजे संसद में भेजा गया।
इसके बाद 1984 में चुनावों में भाजपा जब दो सीटों पर जीत दर्ज की थी तब वाजपेयी इसमें नहीं थे। इस चुनाव में ग्वालियर सीट से उन्हें कांग्रेस के माधवराव सिंधिया ने हराया था।
इनसे इतर जब 1999 में जब जयललिता की अन्नाद्रमुक पार्टी ने अटल सरकार से अपना समर्थन खींच लिया था इससे अविश्वास प्रस्ताव पर उनकी सरकार गिर गई। इस हार से दुखी अटल ने लगभग रुंधे गले से कहा था हम एक वोट से हार गए।
मजेदार हादसा तो तब हुआ जब इसके अगले लोकसभा में उनकी सरकार बनी और पांच साल चली। अटल ने तब जल्दी चुनाव कराने का फैसला लिया था मगर एनडीए पार्टी हार गई।
इसके बाद जब अटल प्रधानमंत्री कार्यालय से अपना सामान समेट रहे थे, तब ब्यूरोक्रेट बृजेश मिश्रा ने पूछा ये कैसे हुआ‍? इस पर अटल ने हंसते हुए कहा यह तो कांग्रेस को भी नहीं पता यह क्या हो गया।

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story