Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

युद्धपोत आईएनएस किलटन की ये हैं 5 बड़ी खूबियां, दुश्मन भी थर्रा जाएगा

युद्धपोत आईएनएस किलटन आज भारतीय नौसेना के बेड़े में शामिल हो गया है।

युद्धपोत आईएनएस किलटन की ये हैं 5 बड़ी खूबियां, दुश्मन भी थर्रा जाएगा

युद्धपोत आईएनएस किलटन आज भारतीय नौसेना के बेड़े में शामिल हो गया है। खास बात यह है कि कमोरटा श्रेणी के चार युद्धपोत में से किलटन तीसरा युद्धपोत है। रक्षा मंत्री निर्माला सीतारमण ने नौसेना के प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा और तमाम वरिष्ठ अधिकारियों की मौजूदगी में इसे नौसेना में शामिल किया। एक नजर इसकी खूबियों पर:-

यह भी पढ़ें: सिर से पांव तक ढकी रहने वाली मलाला ने पहनी टाइट जींस, फोटो वायरल

1- युद्धपोत आईएनएस किलटन का डिजाइन डायरेक्टोरेट ऑफ नेवल ने तैयार किया है और इसका निर्माण गार्डन रीच शिपबिल्डर्स एंड इंजीनियर्स ने किया है। इस युद्धपोत का नामकरण एक द्वीप के नाम पर रखा गया है।

2- आईएनएस किलटन देश का सर्वाधिक घातक युद्धपोत है। यह शिवालिक क्लास, आईएनएस कामोरता, कोलकाता क्लास और आईएनएस कदमात के बाद सबसे खतरनाक युद्धपोत है। इसमे घातक हथियारों के साथ दुश्मनों की हरकतों को भांपने वाले सेंसर भी लगे हैं।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस के बाद भाजपा के निशाने पर EC, रूपानी ने लगाया सनसनीखेज आरोप

3 - खास बात यह है कि इसका ढांचा कार्बन फाइबर से बना है। इस वजह से यह वजन काफी हल्का है। इसके अलावा इसके रखरखाव का खर्च भी कम है।

4 - दुश्मनों के लिए बेहद घातक है। यह टारपीडो के साथ एएसडब्लू रॉकेट से लैस है। इसके साथ ही इसमें 76 एमएम कैलिबर के मीडियम रेंज की बंदूक लगी हैं। दो मल्टी बैरल 30 एमएम गन इसे युद्धपोत में सशक्त बनाती है।

5 - इस युद्धपोत में मिसाइल रॉकेट, एडवांस इलेक्ट्रानिक सपोर्ट, सोनार के साथ रडार रेवती भी है। इसमें एएसडब्लू हेलीकॉप्टर और सैम प्रणाली भी है। परमाणु हमले करने में भी सक्षम है।

Next Story
Share it
Top