Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

पुलवामा हमले के बाद नहीं टूटा हौंसला, पाक की नाक के नीचे वायुसेना का पोखरण में कड़ा प्रहार

पोखरण रेंज. पुलवामा हमले के बाद भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान की नाक के नीचे पोखरण में अपनी प्रचंड मारक क्षमता का प्रदर्शन वायु शक्ति 2019 अभ्यास के जरिए किया।

पुलवामा हमले के बाद नहीं टूटा हौंसला, पाक की नाक के नीचे वायुसेना का पोखरण में कड़ा प्रहार

पाकिस्तान सीमा के निकट पोखरण रेंज पर भारतीय वायु सेना ने युद्धाभ्यास 'वायु शक्ति' में अपनी ताकत का नभ और थल पर लोहा मनवाया। वायुसेना के पायलटों ने लड़ाकू विमानों से टारगेट दुश्मन के ठिकानों को बर्बाद करने का प्रदर्शन किया। उम्मीद जतायी जा रही है कि अंतरराष्ट्रीय सीमा के करीब वायु सेना के इस प्रदर्शन से नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहे पाकिस्तान को जरूर एक कड़ा संदेश पहुंचा होगा। इस युद्धाभ्यास की थीम सिक्योरिंग द नेशन इन पीस एंड वॉर रखी गई थी।

दो घण्टे तक चले युद्धाभ्यास में वायुसेना के 137 लड़ाकू विमान और हेलीकॉप्टर्स रियल टाइम टारगेट ध्वस्त करते नजर आए। युद्धाभ्यास में आकाश व अस्त्र मिसाइलों के साथ जीपीएस व लेजर गाइडेड बम, राकेट लांचर और हेलीकॉप्टर्स गनों का प्रयोग किया गया। इस दौरान, फ्रंटलाइन लड़ाकू विमान, परिवहन विमान, हेलीकॉप्टर और सतह से हवा में मार करने वाली मिसाइल प्रणाली के प्रदर्शन से मौके पर मौजूद लोग अचंभित दिखाई दिये।

युद्धाभ्यास में आकाश अस्त्र मिसाइलों के साथ जीपीएस और लेजर गाइडेड बम, राकेट लांचर का इस्तेमाल हुआ। युद्धाभ्यास में मिग-21 बाइसन, मिग-27, मिग-29 मिराज-2000, सुखोई-30 एमकेआई, जगुआर जैसे विमान शामिल था। इस दौरान भारतीय वायु सेना प्रमुख बीएस धनोआ और सेना प्रमुख बिपिन रावत के अलावा सचिन तेंदुलकर मौजूद रहे बीएस धनोआ ने कहा कि हम किसी भी ऑपरेशन के लिए तैयार हैं।

सिक्योरिंग द नेशन इन पीस एंड वॉर थी थीम

वायुसेना के हर तीन साल में होने वाले इस युद्धाभ्यास 'वायु शक्ति' की इस बार थीम 'सिक्योरिंग द नेशन इन पीस एंड वॉर' रखी गई थी। 'वायु शक्ति' में मिग -21 बाइसन, मिग -27 यूपीजी, मिग -29, जगुआर, एलसीए (तेजस), मिराज -2000, सु -30 एमकेआई, हॉक, सी -130 जे सुपर हरक्यूलिस, एन -32, एमआई -17 वी 5, एमआई -35 हमले के हेलीकाप्टरों, स्वदेशी रूप से विकसित उन्नत लाइट हेलीकाप्टर प्रदर्शन करते नजर आये।

Next Story
Share it
Top