Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

रिकॉर्ड / वेदांगी कुलकर्णी साइकिल से दुनिया का चक्कर लगाने वाली सबसे तेज एशियाई महिला बनीं, जानें कौन हैं ये

महाराष्ट्र (Maharashtra) के पुणे की रहने वाली 20 साल की वेदांगी कुलकर्णी (vedangi kulkarni) ने 159 दिनों में 29,000 किलोमीटर साइकिल चलाकर इतिहास रच दिया है।

रिकॉर्ड /  वेदांगी कुलकर्णी साइकिल से दुनिया का चक्कर लगाने वाली सबसे तेज एशियाई महिला बनीं, जानें कौन हैं ये
महाराष्ट्र (Maharashtra) के पुणे की रहने वाली 20 साल की वेदांगी कुलकर्णी (vedangi kulkarni) ने 159 दिनों में 29,000 किलोमीटर साइकिल चलाकर इतिहास रच दिया है। वो दुनिया की सबसे तेज एशियाई महिलाओं (Asian Women) की लिस्ट में शामिल हो गई हैं। इस दौरान वो 14 देश घूमी और रोजाना 300 किलोमीटर की यात्रा करती थीं।
बीते रविवार को वेदांगी भारत के कोलकाता पहुंची। इसकी शुरुआत उन्होंने जुलाई में ऑस्ट्रेलिया के पर्थ से की थी। इस रिकार्ड को पूरा करने के लिए वह ऑस्ट्रेलिया के इस शहर में वापस जाएंगी।

पर्थ से कोलकाता पहुंची वेदांगी

जैसे ही वो कोलकाता पहुंची तो उनका स्वागत किया गया। इस यात्रा के दौरान उन्होंने कुछ अनुभव भी लोगों से शेयर किए। इस सफर के दौरान उन्होंने अच्छे और बुरे अनुभव हुए जिनके बारे में बताया। इसके लिए उन्होने 2 साल पहले तैयारी की थी।

साइकिल का अनुभव शेयर किया

वहीं उन्होंने स्पेन का अनुभव शेयर किया और कहा कि साइकिलिंग के दौरान चाकू की नोक पर उनसे लूटपाट हुई। वहीं कनाडा में एक भालू उनका पीछे करने लगा था। इस दौरान कई चुनौतियों का समाना भी करना पड़ा था।

इन देशों की यात्रा

उन्होंने कहा कि कई देशों में तापमान शून्य से नीचे रहा। तापमान शून्य से 20 डिग्री कम से 37 डिग्री सेल्सियस तक रहा। इस दौरान वेदांगी ने ऑस्ट्रेलिया, न्यू जीलैंड, बेल्जियम, जर्मनी, डेनमार्क, स्वीडन, पुर्तगाल, स्पेन फ्रांस, फिनलैंड कनाडा, आइसलैंड और रूस देशों की यात्रा की।

वेदांगी कुलकर्णी से पहले ब्रिटेन की रहने वाली जेनी ग्राहम ने साइकिल से दुनिया का चक्कर लगाया था। उन्होंने सबसे कम दिनों में साइकल से चक्कर लगाने का रेकॉर्ड अपने नाम लिखा था। उन्होंने 124 दिनों में दुनिया का चक्कर पूरा किया था। जबकि वेदांगी ने 159 दिनों में यह चक्कर पूरा किया है।

जानें कौन हैं वेदांगी कुलकर्णी

वेदांगी कुलकर्णी महाराष्ट्र के पुणे की रहने वाली हैं। उनके पिता का नाम विवेक कुलकर्णी है। कुलकर्णी ब्रिटेन के बॉउर्नेमाउथ विश्व विद्यालय की छात्रा है। वेदांगी ने 17 साल की उम्र में साइकिल चलाना शुरू किया था
Share it
Top