Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

हीरा कारोबारी नीरव मोदी को अमेरिकी कोर्ट से बड़ी राहत, पीएनबी का कोई जिक्र नहीं

अमेरिका की एक कोर्ट ने भारत के हीरा कारोबारी नीरव मोदी की कंपनी फायरस्टार डायमंड की दिवालिया अर्जी पर अंतरिम रोक लगा दी है।

हीरा कारोबारी नीरव मोदी को अमेरिकी कोर्ट से बड़ी राहत, पीएनबी का कोई जिक्र नहीं

पीएनबी में 11,400 करोड़ की चपत लाने वाले भारतीय हीरा कारोबारी नीरव मोदी को अमेरिकी कोर्ट से बड़ी राहत मिली है। कोर्ट ने कंपनी फायरस्टार डायमंड से कर्ज वसूली करने पर अंतरिम रोक लगा दी है।

बीते सप्ताह नीरव मोदी की कंपनी फायरस्टार डायमंड ने कोर्ट में दिवालिया होने को लेकर याचिका दायर की थी। कोर्ट ने एक आदेश पारित करते हुए कहा कि दिवाला प्रक्रिया के आवेदन के साथ ही संग्रह से जुड़ी अधिकतर गतिविधियों पर खुद ही रोक लग गई है।

ये भी पढ़ेः अमेरिकाः यूनिवर्सिटी में एक बार फिर गूंजी गोली की आवाज, दो लोगों ने गवाई जान हमलावर की तलाश जारी

कोर्ट ने अपने दो पन्नों के आदेश में कहा कि इसका मतलब यह है कि लेनदार आमतौर पर कर्ज लेने वाले से और उसकी संपत्तियों से कर्ज वसूली के लिए कार्रवाई नहीं कर सकते हैं।

नीरव मोदी पर पंजाब नेशनल बैंक से करीब 12,000 करोड़ रुपये से अधिक की धोखाधड़ी का आरोप है। फायरस्टार डायमंड और उसकी सहयोगी कंपनियों में अन्य कंपनियों के माध्यम से मोदी का मेजॉरिटी शेयर है।

बता दें कि नीरव मोदी ने जो अर्जी कोर्ट में दी है उसमें सिर्फ एचएसबीसी और इजरायल डिस्काउंट बैंक (आईडीबी) बैंक का ऋणदाता के रूप में उल्लेख है, जिनका कुल 2 करोड़ डॉलर दो कंपनियों पर बकाया है। इसमें पीएनबी स्कैम का कोई जिक्र नहीं किया गया है।

ये भी पढ़ेः पीएम मोदी के दोस्त नेतन्याहू से भ्रष्टाचार के मामले में पूछताछ, लगे ये गंभीर आरोप

पीएनबी स्कैम

पीएनबी ने नीरव मोदी पर 11,300 करोड़ रुपए के फर्जीवाड़े का आरोप लगाया था। नीरव मोदी की ओर से इस अतिरिक्त अवैध ट्रांजैक्शन की कीमत पीएनबी के साल 2017 के कुल मुनाफे के बराबर है। जिसके बाद ईडी और सीबीआई ने नीरव मोदी और मेहूल चोकसी के खिलाफ कार्रवाई शुरू कर दी।

Next Story
Top