logo

मसूद अजहर की घेरा बंदी के लिए भारत-अमेरिका एक साथ, चीन को भी दो टूक जवाब

पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान पर आतंक को खत्म करने के लिए भारत ही नहीं दुनिया के कई देश खड़े हो गए हैं। आज संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा समिति की बैठक में मसूद को अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित करने के लिए प्रस्ताव लगाया जाएगा।

मसूद अजहर की घेरा बंदी के लिए भारत-अमेरिका एक साथ, चीन को भी दो टूक जवाब
पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान पर आतंक को खत्म करने के लिए भारत ही नहीं दुनिया के कई देश खड़े हो गए हैं। ऐसे में भारत अमेरिका समेत कई देशों के साथ मिलकर जैश सरगना अजहर मसूद पर प्रतिबंध लगवाने के लिए अपनी पूरी ताकत लगा रहा है।
मीडियी रिपोर्ट के मुताबिक, आज संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा समिति की बैठक में मसूद को अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित करने के लिए प्रस्ताव लगाया जाएगा। वहीं अमेरिका ने चीन को दो टूक जवाब देते हुए कहा कि अगर प्रस्ताव पास नहीं हुआ तो क्षेत्रीय शांति का मिशन फेल हो जाएगा।
वहीं अमेरिकी विदेश विभाग के प्रवक्ता रॉबर्ट ने भी भारत के साथ आतंकवाद पर साथ काम करने की वकालत की है। उन्होंने कहा कि अमेरिका और चीन इस बात पर सहमत हैं चारो तरफ शांति स्थापित हो ऐसे में अशांति फैलाने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए।
आगे कहा कि मसूद अजहर जैश का संस्थापक और नेता भी। जैश कई आतंकवादी हमलों के लिए जिम्मेदार रहा है और क्षेत्रीय स्थिरता और शांति के लिए खतरा है। ऐसे में उसके खिलाफ यूएन में बड़ी कार्रवाई होनी चाहिए।
Loading...

Latest

View All

वायरल

View All

गैलरी

View All
Share it
Top