Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

उरी अटैक: जैश के थे आतंकी, पाक में बने सामान बरामद

हमले के पीछे पाकिस्‍तान का हाथ होने के ''सबूत'' सामने आए हैं।

उरी अटैक: जैश के थे आतंकी, पाक में बने सामान बरामद
नई दिल्‍ली. जम्‍मू-कश्‍मीर के उरी में सेना के एक कैंप पर हुए आतंकी हमले के पीछे पाकिस्‍तान का हाथ होने के 'सबूत' सामने आए हैं। इस हमले में जैश-ए-मुहम्‍मद के आतंकी शामिल थे और मारे गए आतंकवादियों के पास से कई ऐसी चीजें मिली हैं जिन पर पाकिस्‍तान की मार्किंग है यानी वे चीजें पाकिस्‍तान में बनी हैं।

डायरेक्‍टर जनरल ऑफ मिलटरी ऑपरेशंस (डीजीएमओ) लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने हमले के बाद रविवार को रिपोर्टरों से कहा, 'हमले के बाद जवाबी कार्रवाई में मारे गए सभी आतंकवादी विदेशी थे और शुरुआती रिपोर्टों से मालूम हुआ है कि उनका संबंध जैश-ए-मुहम्‍मद से था। इन आतंकवादियों के पास से जो सामान बरामद हुए हैं, उनमें से कुछ पर पाकिस्‍तान की मार्किंग है। मैंने पाकिस्‍तान के डीजीएमओ से इस बारे में बात की और उन्‍हें अपनी चिंताओं से अवगत कराया।'

उन्‍होंने कहा, 'मारे गए आतंकवादियों के पास से हमने चार एके-47 राइफल, चार अंडर बैरल ग्रेनेड लॉन्‍चर्स और कुछ वैसे हथियार बरामद किए हैं जिनका इस्‍तेमाल युद्ध में किया जाता है।' हमले की विस्तृत जानकारी देते हुए उन्‍होंने कहा, 'आतंकवादियों ने वैसे हथियारों से हमला किया था जिनसे जल्‍द आग पकड़ लेती है। इसी की वजह से सेना के कैंप में आग लग गई। हमले में 17 सैनिकों की मौत हो गई। इनमें से 13-14 की मौत आग लगने की वजह से हुई।'

एनबीटी की रिपोर्ट के मुताबिक, डीजीएमओ ने कहा, 'मैं भरोसा दिलाता हूं कि भारतीय सेना दुश्मनों की हर साजिश का सामना करने के लिए तैयार है और इस तरह के हमलों का माकूल जवाब दिया जाएगा। भारतीय सेना उरी मिलिटरी कॉम्‍प्‍लैक्‍स के आसपास सर्च अभियान चला रही है।'
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top